किशोरी बालिकाओं को कराया गया सार्वजनिक संस्थाओं का भ्रमण, बालिकाओं से संबंधित अपराधो की दी गई जानकारी

सौ से अधिक बालिकाए रही शामिल

By: raghuvansh prasad mishra

Published: 18 Dec 2018, 09:51 PM IST

शहडोल. महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलाई जा रही किशोरी बालिका योजना के तहत किशोरियों को विभिन्न संस्थाओं का भ्रमण कराया गया। जिसमे सैकडों की सख्या में किशोरिया शामिल रही। इस अवसर पर किशोरियों को सार्वजनिक सेवाओं की कार्यप्रणाली से अवगत कराया गया। जिसमे विभिन्न ग्रामीण अंचलो से आयी किशोरी बालिकाए शामिल रही। कार्यक्रम का आयोजन बीएल प्रजापति संभागीय संयुक्त संचालक महिला बाल विकास तथा आनंद अग्रवाल परियोजना अधिकारी एवं सत्येंद्र सोंधिया खण्ड सशक्तिकरण अधिकारी के नेतृत्व में आयोजिन किया गया।
आनंद अग्रवाल परियोजना अधिकारी द्वारा बताया गया कि भ्रमण का उद्देश्य सार्वजनिक सेवाओं की कार्य पद्धति के बारे में जागरूक कर उनका आत्म विश्वास एवं सेवाओं तक उनकी पहुंच बढ़ाना है ताकि किशोरियां भविष्य में समय आने पर इन सेवाओ का उपयोग करने में सक्षम हो सके। किशोरियों को सर्वप्रथम जिला महिला सशक्तिकरण कार्यालय का अवलोकन राकेश खरे जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा कराया गया तथा महिला सशक्तिकरण से संबंधित योजनाओं की जानकारी दी गयी। तदुपरांत बाल कल्याण समिति कार्यालय का भ्रमण कराते हुए जेके तिवारी सदस्य बाल कल्याण समिति द्वारा बाल कल्याण समिति के कार्य दायित्व की जानकारी दी गयी। इसके पश्चात किशोरियों को संभागीय कार्यालय महिला बाल विकास का भ्रमण कराया गया। किशोरियों को पटेल नगर स्थित शिवालय शिशुगृह का भ्रमण कराया गया तथा चाइल्ड हेल्प लाईन शहडोल के सदस्यो द्वारा बच्चो से होने वाले अपराध एवं चाइल्ड हेल्प लाईन नंबर 1098 की जानकारी दी गयी। इसके पश्चात किशोरियों को थाना सोहागपुर ले जाया गया जहां सब इन्सपेक्टर संध्या मेश्राम द्वारा महिला अपराध, बाल विवाह, एफ आई आर एवं बालिकाओं से संबंधित अपराधो एवं बचाव की जानकारी दी गयी। इसके पश्चात किशोरियों को वन स्टाप सेंटर तथा महिला थाना की जानकारी दी गयी जिसमें सरोज सिंह एवं प्रियंका सिंह द्वारा घरेलू हिंसा अधिनियम एवं महिला उत्पीडऩ की जानकारी देते हुए पीडि़त महिलाओं को वन स्टाप सेंटर भेजने के संबंध में बताया गया। महिला थाने के संबंध में जानकारी तुलसी उईके थाना प्रभारी द्वारा दी गयी तथा निर्भया के संबंध में बताया गया। अंत में किशोरियों से भ्रमण किये गए कार्यक्रम के संबंध में आनंद अग्रवाल परियोजना अधिकारी द्वारा फीड बैक लिया गया। कार्यक्रम में शाहिन अंजूम, सुधा निगम पर्यवेक्षक, रचना तिवारी एवं सरस्वती शर्मा ईसीसीई समन्वयक की भूमिका रही। भ्रमण में लगभग 100 से अधिक किशोरी बालिकाओं द्वारा भाग लिया गया।

raghuvansh prasad mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned