यहां मौजूद हैं सर्ती प्रथा के अवशेष, मिटाने की की गई साजिश लोगों में आक्रोश

यहां मौजूद हैं सर्ती प्रथा के अवशेष, मिटाने की की गई साजिश लोगों में आक्रोश

shivmangal singh | Publish: Feb, 15 2018 12:22:36 PM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 05:35:40 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

पढि़ए पूरी खबर

यहां मृत पति और जिंदा पत्नी के साथ जलती थी चिता

शहडोल। जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर स्थित है सिंहपुर गांव, जहां काली मंदिर और रजहा तालाब परिसर में बने सती चबूतरे को लेकर विवाद गहराता जा रहा है। दरअसल इन दिनों ऐतिहासिक रजहा तालाब के गहरी करण, तालाब और मंदिर परिसर का सौंदर्यीकरण का काम चल रहा है। जहां काली मंदिर और रजहा तालाब परिसर में बने सती चबूतरा और कल्चुरीकालीन मूर्तियों को ठेकेदार ने जेसीबी मशीन से खंडित कर दिया है। ये वही चबूतरा है जहां सती प्रथा के युग में मृत पति और जिंदा पत्नी की साथ में चिता जलाई जाती थी।

It was burning with the dead husband and alive wife.

सती चबूतरे और वहां की कल्चुरी कालीन मूर्तियों को खंडित हो जाने के बाद वहां के ग्रमीणों में खासा आक्रोश है। ग्रामीणों ने इसका विरोध भी किया है। जानकारी के मुताबिक उक्त मंदिर और ये पूरा परिसर पुरातत्व विभाग के अंतर्गत आता है। इसके बाद भी ठेकेदार और ठेका कर्मियों ने इस प्राचीन धरोहर को क्षति पहुंचाई है। ठेकेदार के गैर जिम्मेदाराना कार्यशैली के चलते आज सिंहपुर के ग्रामीण ज्ञापन सौंपने की तैयारी में हैं। और अगर फिर भी इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो ठेकेदार के गिरफ्तारी की भी मांग करेंगे।
-------------------------------------------------

देवालयों में गूंजे हर-हर महादेव
महाशिवरात्रि का पर्व श्रध्दाभक्ति के साथ मनाया

बुढ़ार- नगर के देवालयों में महाशिवरात्रि का पर्व बुधवार को श्रध्दाभक्ति व भण्ड़ारें के साथ मनाया गया। जहॉ भगवान भोलेनाथ को जल ढ़ारने साधकों की कतार लगी रही। भगवान महादेव के जयकारों के साथ देवालयों में हर- हर महादेव के मंत्रोचारण गूंजते रहे।

धार्मिक हृदय स्थल श्री राम जानकी मंदिर में महाशिवरात्रि का त्योहार उत्साह से मनाया गया । भगवान त्रिपुरारी का विधिवत पूजन उपरात प्रसाद वितरण हुआ। श्री दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में पशुुपति नाथ ? की आराधना करने सुबह से उनके साधकों का तातां लगा रहा । नर नारियों ने भगवान भुजंगभूषण को दूध जल से अभिषेक कर करहा, बेर श्रीफल मिष्ठान चढ़ाकर पूजा की। शंकर मंदिर बस स्टैण्ड में महाशिवरात्रि का पर्व मनाया गया ।

यहां सुबह भगवान भोलेनाथ का जल से अभिषेक उपरांत कीर्तन भजन हुआ। व्यवहार न्यायालय में शिव मंदिर में महाशिवरात्रि का पर्व धूमधम के साथ मनाया गया। जहॉ न्यायाधीश व अधिवक्ताओं ने भगवान शिव की पूजा पाठ के बाद भण्डारे का आयोजन किया। इसके पूर्व मानस पाठ का आयोजन किया गया। ब्लाक कालोनी शिवमंदिर में महाशिवरात्रि पर रूद्राभिषेक उपरांत भण्डारे का आयोजन हुआ मध्यप्रदेश विद्युत मंडल कार्यालय प्रांगण में महाशिवरात्रि का त्योहार विविध धार्मिक कार्यक्रमों के साथ मनाया गया। सर्वप्रथम भगवान भोलेनाथ की विधिवत पूजा अर्चन रूद्राभिषेक किया गया। पूजन पुरोहित पं नरेन्द्र शास्त्री पं धनराज शुक्ला ने कराई। तत्पश्चात भण्ड़ारे का आयोजन किया गया। सहायक यंत्री जितेन्द्र कुमार गुप्ता कनिष्ठ यंत्री आरएस त्रिपाठी और विजय शाहा मौजूद रहे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned