शहडोल से उमरिया व सीधी की ओर रवाना हुआ टिड्डी दल

किसानों के खाली खेतों में नहीं कर पाएं कोई नुकसान

By: brijesh sirmour

Published: 02 Jun 2020, 09:00 PM IST

शहडोल. जिले में अब टिड्डी दल का खतरा कम हो गया है, क्योंकि मानपुर की ओर से आया टिड्डियों का दल मंगलवार को उमरिया और सीधी की ओर रवाना हो गया है। बीटीएम सीबी बागरी ने बताया कि टिड्डियों को पहला दल देवरी से उडकऱ बनचाचर होते हुए पपौड में ठहरा था। जिन पर केमिकल का छिडक़ाव व ट्रैक्टरों की आवाज करने पर वह उमरिया के जंगल की ओर चले गए। जबकि दूसरा दल ढोढा गांव में था, उन पर भी केमिकल की बौछार की गई तो वह सीधी की ओर रवाना हो गए। इस प्रकार फिलहाल शहडोल जिला टिड्डियों के खतरे से मुक्त हो गया है। किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग के संयुक्त संचालक जेएस पंद्राम ने बताया है कि जिले में टिड्डियों के हमले पूर्व ही प्रशासन पूरी तरह से चौकन्ना था और हमले की जानकारी मिलते ही उस पर नियंत्रण पा लिया गया है।
कृषकों को सलाह
-अगले कुछ दिनों तक लगातार बारिश के दौरान फसलों में सिंचाई व कीटनाशक का छिडक़ाव नहीं करें।
-टिड्डी दल के आक्रमण की जानकारी तत्काल स्थानीय प्रशासन, कृषि विभाग व कृषि विज्ञान केन्द्र को देवें।
-अरहर की बुवाई के लिए खेत की तैयारी करें। प्रमाणिक व गुणवत्ता वाले बीजों का चयन करें।
-जून के प्रथम पखवाड़े तक धान की नर्सरी का काम पूरा कर लें।
-टमाटर और मिर्च में लीफ कर्ल की बीमारी से बचने के लिए फसलों की सतत निगरानी करें।

brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned