scriptMiller said deposited 2610 sacks of rice, not getting account | जांच करने पहुंची टीम, मिलर ने कहा जमा किए 2610 बोरी चावल, नहीं मिल रहा हिसाब | Patrika News

जांच करने पहुंची टीम, मिलर ने कहा जमा किए 2610 बोरी चावल, नहीं मिल रहा हिसाब

स्काई लाइन एग्रो प्राईवेट लिमिटेड गोदाम में एमपीडब्ल्यूएलसी तथा नान की टीम ने खंगाले दस्तावेज

शाहडोल

Published: July 29, 2021 11:44:00 am

शहडोल. नगर के गोरतरा स्थित स्काई लाइन एग्रो प्राइवेट लिमिटेड गोदाम में 2610 बोरी चावल जमा किए बिना नान के रेकार्ड में मिलर द्वारा दर्ज कराने के मामले में जांच शुरू हो गई है। जांच टीम ने दस्तावेज खंगाले हैं। अब कलेक्टर को रिपोर्ट दी जाएगी। मामले में कलेक्टर शहडोल द्वारा जांच के निर्देश दिए थे। लगभग एक माह से भी अधिक समय से जांच में जुटी एमपीडब्ल्यूएलसी तथा नान की टीम अभी तक किसी नतीजे तक नहीं पहुंच सकी है। लगभग 2610 बोरी चावल के इस गोलमाल के खेल की जांच में अभी तक कोई पुख्ता दस्तावेज हाथ नहीं लगे हैं जिससे कि चावल जमा होने की पुष्टि हो सके। एमपीडब्ल्यूएलसी तथा नान की टीम फिर से गोरतरा गोदाम पहुंची। जहां अपने साथ लाई हुई एक कांटा पर्ची से संबंधित दस्तावेज गोदाम प्रबंधन से मांगे गए। साथ ही अन्य दस्तावेजों का भी मिलान किया गया। हालांकि इस पर भी अभी कोई नतीजा नहीं निकला। बहरहाल नान प्रबंधन का कहना है कि दो दिन में जांच पूरी हो जाएगा। इसके बाद जांच रिपोर्ट कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत की जाएगी।

rice millers
rice mill

चावल गायब, खंगाल रहे धान के दस्तावेज
जांच करने पहुंची टीम अपने साथ कांटा घर की एक पर्ची लेकर पहुंची हुई थी। जिससे संबंधित दस्तावेज गोदाम प्रबंधन से मांगे गए। बताया जा रहा है कि जो पर्ची लेकर जांच टीम मौके पर पहुंची हुई थी। वह लगभग 400 बोरी धान उठाव की थी। जबकि जांच टीम गोदाम में चावल जमा किए बिना नान के रिकार्ड में 2610 बोरी चावल जमा होने की जांच करने पहुंची हुई थी।

अब तक नहीं मिले पुख्ता दस्तावेज
नान के रिकार्ड में जून-जुलाई 2020 में जमा 2610 बोरी चावल आखिर मिलर द्वारा कहां जमा किए गए इससे सबंधित कोई भी पुख्ता दस्तावेज जांच टीम के हाथ अब तक नहीं लग पाए हैं। जांच टीम द्वारा लगातार दस्तावेजों का मिलान किया जा रहा है। लेकिन जानकारों की माने तो इस बात की पुष्टि अब तक नहीं हो पाई है कि मिलर ने इतनी बड़ी मात्रा में चावल कहां जमा किए गए हैं।

मामले की जांच चल रही है आवश्यक दस्तावेजो से मिलान किया जा रहा है। दो दिन में जांच पूरी हो जाएगी। इसके बाद जांच रिपोर्ट कलेक्टर शहडोल के समक्ष प्रस्तुत की जाएगी।
राकेश चौधरी, डीएम नान शहडोल

मिलर द्वारा चावल कहां जमा किया गया इसकी जांच की जा रही है। अभी तक कोई पुख्ता दस्तावेज नहीं मिले हैं। नॉन प्रबंधन द्वारा मामले की जांच की जा रही है।
सरस्वती यादव, प्रभारी प्रबंधक वेयर हाउस शहडोल

नॉन तथा एमपीडब्ल्यूएलसी की टीम गोदाम पहुंची हुई थी। जिनके द्वारा एक कांटी पर्ची से संबंधित दस्तावेज मांगे गए थे। साथ ही अन्य दस्तावेजों की भी जांच की गई है।
राजेन्द्र तिवारी, प्रबंधक स्काई लाईन एग्रो प्राईवेट लिमिटेड गोरतरा शहडोल

मामले में जांच के निर्देश दिए थे। रिपोर्ट मांगी गई थी। जांच कराई जा रही है।
डॉ सतेन्द्र कुमार सिंह, कलेक्टर शहडोल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.