लेटलतीफी के साथ मिलर्स ने 23 हजार 607 क्विंटल चावल का किया उठाव

55 हजार क्विंटल चावल को अपग्रेड कर करना है जमा

By: amaresh singh

Published: 12 Oct 2020, 09:49 PM IST

शहडोल। मिलर्स अभी भी लेटलतीफी से चावल का उठाव कर रहे हैं। अभी तक मिलरों ने 23 हजार 607 क्विंटल बीआरएल चावल का उठाव किया है। इसमें से 17 हजार 345 क्विंटल चावल को अपग्रेड करके उसे गोदामों में जमा किया है। यह हालत तब है जब नान प्रबंधक हर मिलर्स को बुलाकर चावल का उठाव नहीं करने पर पेनाल्टी लगाने की चेतावनी दे चुके हैं।


8 मिलरों ने उठाव कर अपग्रेड करके किया जमा
जहां कुछ मिलर बीआरएल चावल का उठाव करने में लेटलतीफी कर रहे हैं। वहीं 8 मिलरों ने बीआरएल चावल का उठाव कर उसे अपग्रेड करते हुए गोदामों में जमा करवा दिया है। जिन मिलरों ने अपने बीआरएल चावल का उठाव कर उसे अपग्रेड कर जमा करवाया है, उसमें गुड्डू सरावगी मिलर ने 1450 क्विंटल का उठाव करते हुए उसे अपग्रेड कर गोदामों में जमा करवाया है। इसके बाद मदनी राइस मिलर ने 1150 क्विंटल चावल, शारदा राइस मिल ने 580 क्विंटल चावल, सर्वोदय राइस मिल ने 1806 क्विंटल चावल, जेएस राइस मिल ने 1749 क्विंटल, महाकाल सारटेक्स ने 1764 क्विंटल, विराट इंडस्ट्रीज ने 670 क्विंटल चावल, अक्सा राइस मिलर ने 271 क्विंटल चावल का उठाव करते हुए उसे अपग्रेड करके जमा करवा दिया है।


इंडियन ने अभी भी नहीं किया उठाव
वहीं इंडियन राइस मिलर ने नान प्रबंधक की चेतावनी के बाद भी रविवार शाम तक बीआरएल चावल को छुआ तक नहीं था। प्रबंधक द्वारा पेनाल्टी लगाने की चेतावनी का भी मिलर पर असर नहीं हो रहा है। वहीं हदीश राइस मिलर के मिल में मशीन अपग्रेडेशन होने के चलते मिलर द्वारा चावल का उठाव नहीं किया जा रहा है। इस संबंध में उसने कागज भी जमा किया है।


तीन मिलर अभी पीछे
वहीं तीन अभी अपने स्टॉक का उठाव कर उसे अपग्रेड करके जमा करने में पीछे हैं। इसमें प्रयागराज राइस मिल ने 4246 क्विंटल में से 2550 क्विंटल चावल का उठाव किया है जबकि 1966 क्विंटल चावल को अपग्रेड करके उस जमा करवाया है। तिरूपति राईस मिलर ने 5540 क्विंटल में से 1472 क्विंटल चावल का उठाव कर 1172 क्विंटल चावल अपग्रेड कर उसे जमा किया है। नूरजहां राइस मिलर ने 3563 क्विंटल चावल का उठाव कर 1139 क्विंटल चावल अपग्रेड कर उसे जमा किया है।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned