लापरवाही : कोरोना संदिग्ध वृद्ध महिला की मौत, प्रबंधन ने नहीं लिया सैंपल

ऑक्सीजन का स्तर पहुंच गया था 40 तक, संभाग में 24 मरीजों की हो चुकी है मौत

By: Ramashankar mishra

Updated: 16 Sep 2020, 01:22 PM IST

शहडोल. मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए बीती रात भर्ती कराई गई कोरोना संदिग्ध वृद्ध महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। महिला डायबिटीज की मरीज थी पिछले कई दिन से बीमार थी। तबीयत बिगडऩे पर परिजनो द्वारा बीती रात उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन के अनुसार धनपुरी निवासी 65 वर्षीय महिला की तबीयत काफी नाजुक थी। परिजनों द्वारा उसे जिस वक्त मेडिकल कॉलेज लाया गया था उस समय अचेत थी, आक्सीजन का स्तर भी काफी कम था। देर रात उसे भर्ती कराया गया था लेकिन सुबह ही मौत हो गई। इधर मंगलवार को 73 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए।
10 दिन से इलाज
महिला का स्वास्थ्य पिछले दस दिन से खराब था। जहां उसका पहले स्थानीय स्तर पर इलाज कराया जा रहा था। इस बीच जब तबीयत ज्यादा खराब हुई तब कॉलेज में भर्ती कराया गया।
भोपाल में मौत
शहर के एक वृद्ध की कोरोना संक्रमण से भोपाल में मौत हुई है। वे शहडोल में संक्रमित पाए गए थे।
गंभीर लक्षण, फिर क्यों नहीं लिया सैंपल
मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान जिस महिला की मौत हुई है वह कोरोना संदिग्ध थी। बताया जा रहा है कि उसे सांस लेने में तकलीफ थी और ऑक्सीजन का लेवल भी कम था। इसके बाद भी उसकी सैम्पलिंग न किए जाने को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। हालांकि प्रबंधन का कहना है कि देर रात भर्ती कराए जाने की वजह से उसकी सैम्पलिंग नहीं हो पाई थी और सुबह उसकी मौत हो गई।

Show More
Ramashankar mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned