परीक्षा परिणाम में लापरवाही, शिक्षक अपलोड नहीं कर रहे रिजल्ट

इन्डैप्थ स्टोरी-संभाग में शहडोल और अनूपपुर सबसे पीछे, उमरिया आगे, महज 33 फीसदी सरकारी स्कूलों के अपलोड हुए कक्षा नौवीं के परीक्षा परिणाम

By: brijesh sirmour

Published: 27 Mar 2020, 09:19 PM IST

शहडोल। सरकारी स्कूलों में कक्षा 9वीं के परीक्षा परिणाम ऑनलाइन में अपलोड करने में अधिकारियों की लापरवाही सामने आई है। सरकारी स्कूलों के कक्षा नौवीं एवं ग्याहरवी के परीक्षा परिणाम इस बार ऑनलाइन जारी किए जाने थे, मगर अभी तक संभाग अंतर्गत शहडोल, उमरिया व अनूपपुर के कक्षा नौवीं के परीक्षा परिणाम विमर्श पोर्टल पर पूरे दर्ज नहीं हो पाए हैं। उधर स्कूली छात्र-छात्राओं को अब ऑनलाइन रिजल्ट मिलने का इंतजार है। इसके लिए शिक्षा विभाग के बड़े अधिकारियों ने निर्देश भी दिए थे लेकिन लेटलतीफी की जा रही है।
शहडोल और अनूपपुर पीछे, उमरिया का 53 फीसदी
24 मार्च तक संभाग के तीनो जिले के 455 सरकारी स्कूलों के कक्षा नौवीं के महज 33 फीसदी स्कूलों के परीक्षा परिणाम अपलोड हो पाए थे। जिसमें शहडोल के 181 स्कूलों में 25 फीसदी, उमरिया के 136 स्कूलों में 53 फीसदी और अनूपपुर के 138 स्कूलों में महज 20 प्रतिशत स्कूलों की फीडिंग हो पाई है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव को ध्यान में रखते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने इस बार कक्षा नौवीं व ग्यारहवीं के वार्षिक परीक्षा परिणाम को विमर्श पोर्टल जारी किए जाने के निर्देश जारी किए थे। ताकि विद्यार्थी अपने घर पर ही परीक्षा परिणाम देख सके। इसके बाद भी लापरवाही बरती जा रही है।
राज्य कार्यालय ने पूछा- क्यों हो रही लेटलतीफी
शासन ने घर पर बैठकर कार्य करने के लिए कहा है। इस स्थिति में अधिकारी और शिक्षक छुट्टियां मना रहे हैं। कई बार मैसेज करने के बाद भी स्कूलों द्वारा अभी तक परीक्षा परिणाम अपलोड न करना चिंताजनक है । राज्य कार्यालय में बच्चों के बहुत अधिक संख्या में फोन आ रहे हैं। वहां उन्हें परीक्षा परिणाम दिखाई नहीं दे रहा है। इसके लिए राज्य कार्यालय से सभी को निर्देश भी दिए गए हैं लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला।
जिला स्कूल रिजल्ट 9वीं पेंडेंसी स्थिति
शहडोल 181 46 135 25
उमरिया 136 72 64 53
अनूपपुर 138 28 110 20

Show More
brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned