अब नहीं चलेगा फर्जीवाड़ा, अब खाद्यान के लिए ये जरूरी

अब नहीं चलेगा फर्जीवाड़ा, अब खाद्यान के लिए ये जरूरी

Shahdol online | Publish: Dec, 07 2017 05:34:11 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

इतने लाख परिवारों का आधार लिंक

शहडोल- एक साथ दो-दो जगह नाम जुड़वाकर खाद्यान्न ले रहे परिवारों का नाम अलग कराने के उद्देश्य से अब खाद्यान्न के लिये हितग्राहियों को आधार लिंक कराना अनिवार्य कर दिया गया है। जिसके लिये खाद्य विभाग द्वारा विशेष प्रयास कर आधार नम्बर जोडऩे का काम कराया जा रहा है। इस दिशा में खाद्य विभाग ने जिले में सभी पात्र हितग्राहियों को आधार से जोडऩे का काम लगभग-लगभग पूरा कर लिया है। अब परिवार के एक-एक सदस्य को जोडऩे की दिशा में प्रयास किये जा रहे हैं।

जिसके लिये सभी बिक्रेताओं को निर्देशित किया गया है कि वह हितग्राहियों के परिवार के प्रत्येक सदस्य का आधार लिंक कराये। खाद्य विभाग द्वारा पहले परिवार आईडी को लिंक करने की दिशा में प्रयास किया गया। जिसमें जिले के लगभग २ लाख १३ हजार परिवारों को जोडऩे का काम पूरा कर लिया गया है। जिसके बाद अब परिवार के सदस्यों का आधार लिंक करने की दिशा में काम किया जा रहा है। खाद्य विभाग में पात्र हितग्राहियों के परवार के प्रत्येक सदस्य का आधार लिंक होने से एक ही स्थान से खाद्यान्न ले सकेंगे।

दो-दो जगह से लेते थे लाभ
उल्लेखनीय है कि पूर्व में कई हितग्राही ऐसे थे जिनका नाम ग्राम पंचायत में भी जुड़ा था और नगरीय क्षेत्र में जुड़ा था। ऐसे में वह दो-दो स्थानो से खाद्यान्न उठा रहे थे। जिस पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से आधार लिंक कराने की दिशा में पहल की गई। जिसके सार्थक परिणाम सामने आ रहे है। हालांकि अभी परिवार के सदस्यों का आधार लिंक नही हो पाया है जिसके लिये लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। हितग्राही को खाद्यान्न तभी मिलेगा जब उसकी १० उंगली में से कोई भी एक उंगली का निशान थम्ब मशीन में मैच होगा। यदि मशीन में निशान मैच नही होते हैं तो फिर वह राशन से वंचित हो जायेगा। विक्रेताओं द्वारा पात्र हितग्राही के परिवार के सदस्यों का आधार लिंक कराने की दिशा में कार्य किया जा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned