scriptOfficers should send daily information about the resolution of pending | सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों के निराकरण की जानकारी प्रतिदिन भेजें अधिकारी | Patrika News

सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों के निराकरण की जानकारी प्रतिदिन भेजें अधिकारी

समय सीमा की बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों को नोटिस जारी करने निर्देश
समय सीमा की हुई बैठक

शाहडोल

Published: December 27, 2021 09:22:27 pm


शहडोल. सीएम हेल्पलाइन लंबित प्रकरणों का विभागवार समीक्षा करते हुए अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रतिदिन लंबित प्रकरणों का निराकरण कर वस्तुस्थिति से अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि यह निश्चित किया जाए कि कोई भी प्रकरण अनअटेंडेड ना रहे, समाधान कारक जानकारी भरी जाए। सभी विभागीय अधिकारी रुचि लेकर लंबित प्रकरणों का निराकरण कराएं। इसके लिए विभागीय अधिकारी उनके कार्यालय में कार्य करने वाले कंप्यूटर ऑपरेटर को स्वयं बैठाकर प्रकरणवार प्रकरण हल कराएं और अपनी ग्रेडिंग सुधारें। उन्होंने कहा कि 300 दिवस से अधिक लंबित प्रकरणों के संबंध में वस्तुस्थिति की जानकारी सभी कार्यालय प्रमुख भिजवाएं। उक्त निर्देश अपर कलेक्टर अर्पित वर्मा ने समय सीमा की बैठक में दिए। बैठक में अपर कलेक्टर ने बैठक में ना आने वाले अधिकारियों को नोटिस देने के निर्देश संयुक्त कलेक्टर दिलीप कुमार पांडेय को दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारियों के बैठक में ना आने से कार्यक्रमों की समीक्षा नहीं हो पाती। बैठक में अपर कलेक्टर ने कलेक्टर कमिश्नर कॉन्फ्रेंस 29 नवंबर का पालन प्रतिवेदन भिजवाने के निर्देश सभी अधिकारियों को दिए। पीजी पोर्टल में लंबित प्रकरणों को लेकर अधिकारियों से कहा है कि लंबित प्रकरणों के निराकरण में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाए। अपर कलेक्टर ने कहा कि 4 जनवरी को होने वाले समाधान ऑनलाइन में शामिल विषयों का गहन अध्ययन कर प्रकरणों का निराकरण तत्काल कराएं। उन्होने संयुक्त कलेक्टर को निर्देशित किया कि राजस्व विभाग के अधिकारियों की बैठक आयोजित कर राजस्व के लंबित प्रकरणों का निराकरण किया जाए। बैठक में अपर कलेक्टर ने क्रेडिट लिंकेज में प्रगति लाने के निर्देश देते हुए कहा कि क्रेडिट लिंकेज में यह निश्चित किया जाए कि अधिक से अधिक हितग्राही इससे लाभान्वित हो। जिले में एक जिला एक उत्पाद हल्दी पर प्रभावी क्रियान्वयन किया जाए। इसके लिए जिले के उन्नतशील किसानों को हल्दी आदि के उन्नतशील खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। सिकल सेल एनीमिया नियंत्रण के लिए प्रभावि क्रियान्वयन निश्चित किया जाए। इसके लिए महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जाए। जिससे महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता सिकल सेल एनीमिया के लक्षणों से परिचित हो सकें और टेस्ट आदि कर सकें। जिला चिकित्सालय के साथ-साथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं उप स्वास्थ्य केंद्र पर भी सिकल सेल एनीमिया टेस्ट करने के लिए टेस्ट किट भिजवाया जाए और सिकल सेल एनीमिया से चिन्हित गर्भवती माताओं को आवश्यक परामर्श उपचार समय पर दिया जाए। बैठक में संयुक्त कलेक्टर दिलीप कुमार पांडेय, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग शालिनी तिवारी, उप संचालक कृषि आरपी झारिया, कार्यपालन यंत्री डब्ल्यूआरडी प्रदीप खरे, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत निर्देशक शर्मा, जिला आपूर्ति नियंत्रक कमलेश टांडेकर, डीपीसी डॉ मदन त्रिपाठी, जिला शिक्षा अधिकारी रणमत सिंह, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ अंशुमन सोनारे एवं जिला नोडल अधिकारी डॉ पुनीत श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों के निराकरण की जानकारी प्रतिदिन भेजें अधिकारी
सीएम हेल्पलाइन के लंबित प्रकरणों के निराकरण की जानकारी प्रतिदिन भेजें अधिकारी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलछत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 19 मरीजों की मौत, जनवरी में ये आंकड़ा सबसे ज्यादा, इधर तेजी से बढ़ रही एक्टिव मरीजों की संख्याUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सुभासपा अध्यक्ष कहां से लड़ेंगे चुनाव, ये अभी तक रहस्यWeather Update: राजस्थान में 26 व 27 जनवरी को अति शीतलहर का अलर्ट, 31 तक आसमान साफRepublic Day 2022: परेड में इस बार नहीं होगी दिल्ली-बंगाल की झांकी, सिर्फ 12 राज्यों ही होंगे शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.