खेत में फैले करंट से वृद्ध की मौत, भड़के परिजन, लाश लेकर पहुंचे कलेक्ट्रेट

एमपीईबी कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप, आश्वासन के बाद शांत हुए ग्रामीण

By: amaresh singh

Published: 07 Jul 2019, 06:23 PM IST

शहडोल। सिंहपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत करूआताल गांव में बिजली करंट की चपेट में आने से एक वृद्ध की मौत हो गई। परिजनों ने एमपीईबी कर्मचारियों की लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर विरोध जताया। परिजनों का आरोप था कि एमपीईबी की लापरवाही से वृद्ध की मौत हुई है। खेत में लगाए गए ट्रंासफार्मर में पिछले कई दिनों से करंट फैला था, जिसकी चपेट में आने से वृद्ध की मौत हुई है। आक्रोशित परिजन स्ट्रेचर में लाश लेकर कलेक्ट्रेट पहुंच गए। यहां कलेक्ट्रेट के गेट में लाश रखकर जमकर प्रदर्शन किया और एमपीईबी के खिलाफ नारेबाजी भी की।

प्रशासनिक अधिकारियों की समझाइश और आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ

बाद में प्रशासनिक अधिकारियों की समझाइश और आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। पीडि़त अमर सिंह ने बताया कि खेत में ट्रांसफार्मर लगा हुआ है, इसी से खेत में कनेक्शन भी दिया गया है। ट्रंासफार्मर और बिजली सप्लाई की तार पूरी तरह खुली थी। पूर्व में एमपीईबी अधिकारियों को जानकारी भी दी जा चुकी है। ३ जुलाई को सुंदर लाल सिंह खेत गए थे। जहां खुले में करंट फैला था। करंट की चपेट में आने के बाद बुरी तरह झुलस गए थे। जिन्हे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन लगातार वृद्ध की हालत बिगड़ती जा रही थी और अंतत दम तोड़ दिया। वृद्ध की मौत के बाद परिजन भड़क गए और कलेक्ट्रेट में नारेबाजी करते हुए शिकायत कर कार्रवाई की बात कही।


सात माह पहले भी एमपीईबी में लिखित शिकायत
परिजनों ने आरोप लगाया है कि पिछले काफी समय से ट्रंासफार्मर की तार खुली थी। 28 दिसंबर 2018 को इसको लेकर शिकायत भी की थी। जिसमें बताया था कि तार टूटी और खुली हुई है। इसके बाद भी एमपीईबी कर्मचारियों ने ध्यान नहीं दिया और खेत में फैले करंट की चपेट में आने से वृद्ध की मौत हो गई।


भीगते बारिश में रखी लाश, पहुंची पुलिस व अफसर
परिजन स्ट्रेचर में लाश रखकर सीधे अस्पताल से कलेक्ट्रेट पहुंच गए। कलेक्ट्रेट में काफी समय तक लाश बाहर रख दी। सूचना मिलते ही एसडीएम सुरेश अग्रवाल, एसआई कुंदन मनेश्वर, आशिमा गौतम, एएसआई रजनीश तिवारी मौके पर पहुंचकर समझाइश दी। जिसके बाद मामला शांत हुआ।

पीएम रिपोर्ट का इंतजार
एमपीईबी के डीई मुकेश सिंह ने कहा कि घटना के बाद मैं मौके पर पहुंचकर जांच की है। अभी पीएम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। घटनास्थल पर किसी तरह का साक्ष्य नहीं मिला है। जांच के बाद कुछ कहा जा सकेगा। लापरवाही हुई है तो कार्रवाई होगी।

Show More
amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned