OMG! 70 बच्चों की जान जोखिम में थी

स्कूल बस में इतनी लापरवाही

By: Shahdol online

Published: 07 Nov 2017, 01:23 PM IST

70 बच्चों की जान जोखिम में थी

शहडोल- स्कूल बस में घोर लापरवाही देखने को मिली। या यूं कहें की 70 बच्चों की जान हथेली पर थी। क्योंकि कोई भी बड़ा हादसा हो सकता था। जब बस ड्राइवर नशे में धुत होकर बच्चों से भरी गाड़ी को ड्राइव करेगा तो कुछ भी हो सकता है।
दरअसल सरस्वती स्कूल का एक बस चालक नशे में धुत होकर गाड़ी चला रहा था। बस में लगभग 70 बच्चे बैठे हुए थे। वो सभी स्कूल जा रहे थे। नशे से सराबोर ड्राइवर ने पहले एक ऑटो को ओवर टेक किया। और फिर वहीं एक मोटरसाइकिल को टक्कर मारते हुए निकल गया। इस पूरे कारनामे को वहां के रहवासी देख रहे थे। जिन्होंने तुरंत एक्शन लेकर पहले बस को रोका और फिर ड्राइवर को पुलिस के हवाले कर दिया। इस घटना ने अब कई सवाल खड़े कर दिए हैं। स्कूली बच्चों से भरे बस को आखिर एक नशे में धुत ड्राइवर कैसे चला सकता है। और ऐसे हालात में अगर कोई बड़ी दुर्घटना हो जाती तो उसका जिम्मेदार कौन होता ?
-------------------------------------

स्टेशन में मिला मासूम
शहडोल- शहर के घरौला मोहल्ला से एक मासूम अचानक लापता हो गया। घटना ५ नवंबर की बताई गई है। जिसकी शिकायत अंजनी यादव ने कोतवाली पुलिस के समक्ष दर्ज कराई है। पीडि़त परिवार ने पुलिस को बताया कि ११ वर्षीय बालक अचानक घर से लापता हो गया था। मासूम दूध पहुंचाने के लिए गया था तभी लापता हो गया था। परिजनों ने कई जगहों में पतासाजी भी की। इसी दौरान मासूम स्टेशन के नजदीक मिला।
--------------------------------------

अरोपी गिरफ्तार
धनपुरी- अमलाई पुलिस ने बकहो निवासी दसौदिया कोल के घर में पिछले माह हुई चोरी का खुलासा कर लिया है। इस मामले में आरोपी के पास से चोरी गया सामान भी बरामद कर लिया है। पुलिस ने बताया कि फरियादिया की शिकायत पर 2८ अक्टूबर को थाना अमलाई में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई। जिसमें जांच के दौरान विवार को मुखबिर के सूचना के आधार पर आरोपी गेंदलाल नापित पिता रामप्रसाद नापित को पुलिस अभिरक्षा में लेकर पूछताछ कर रही है।

Shahdol online
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned