13 वार्ड, 300 बेड और 400 मरीजों की भर्ती

जिला अस्पताल में फर्श पर भी मरीजों को नहीं मिल रही है जगह

By: amaresh singh

Updated: 05 Sep 2019, 07:38 PM IST

शहडोल। बारिश के मौसम में जिला अस्पताल के ओपीडी और आईपीडी में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बेतहाशा बढ़ गई है। हालत यह है कि अस्पताल के आईपीडी में मरीजों को भर्ती करने के लिए फर्श पर भी जगह नहीं मिल रही है। कई मरीजों को वापस प्राइवेट डॉक्टरों के यहां भर्ती होना पड़ रहा है। वर्तमान में जिला अस्पताल में 13 वार्ड है। इसमें कुल 300 बेड हैं,जिसमें 415 मरीजों को भर्ती किया गया है।


इस तरह सावधानी
इस मौसम में डॉक्टर लोगों को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं। इसमें हमेशा स्वच्छ जल का उपयोग करने, बांसी खाना से परहेज, सड़क किनारे लगी ठेलों पर बिक रही प्रदूषित सामग्री से दूरी शामिल हैं। डॉक्टर धर्मेन्द्र द्विवेदी ने कहा कि यह मौसम संक्रमण रोगों के लिए मुफीद होता है। इस मौसम में लोग आसानी से बीमारी की चपेट में आ जाते हैं। इसलिए सावधानी बरतकर ही बीमारी से बचा जा सकता है।


बुधवार को भर्ती हुए 131 मरीज
बीमार मरीज बेड नहीं मिलने के बाद भी आईपीडी में भर्ती हो रहे हैं। बुधवार को 131 मरीज जिला अस्पताल के विभिन्न वार्डों में भर्ती हुए। वहीं ओपीडी में भी वायरल फीवर से पीडि़त मरीजों की संख्या काफी बढ़ गई है। बुधवार को ओपीडी में 1105 मरीज डॉक्टर से इलाज कराने पहुंचे। बीमार मरीजों में बच्चों एवं महिलाओं की संख्या काफी ज्यादा है। इस मौसम में बच्चे वायरल फीवर,खांसी, शरीर में दर्द आदि की चपेट में जल्दी से आ जा रहे हैं।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned