खेतों में दौड़ रहा करंट, खतरे में बाघों की जिंदगी

इस क्षेत्र में लगातार करंट लगाकर हो रहा वन्यप्राणियों का शिकार...

By: Shahdol online

Published: 09 Dec 2017, 11:20 AM IST

शहडोल. बांधवगढ़ से सटे घुनघुटी के घने जंगलों में बाघों के मूवमेंट पर खेतों में दौड़ते करंट से खतरा है। ग्रामीण अपने खेतों में करंट फैलाकर शिकार कर रहे हैं। हाल ही में घुनघुटी क्षेत्र में बाघ और स्वाइन के शिकार मामले में भी इसकी पुष्टि की है।
इसके बाद भी न तो वन विभाग गंभीरता दिखा रहा है और न ही बिजली और राजस्व विभाग कोई प्रभावी पहल के लिए सामने आ रहा है। वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार घुनघुटी क्षेत्र में ६ से ७ बाघों का कई बार मूवमेंट रहता है।

एक दूसरे के पाले में डाल रहे गेंद
खेतों में करंट फैलाकर कर रहे बाघों के शिकार को लेकर वन विभाग और राजस्व विभाग व एमपीईबी एक दूसरे के पाले में गेंद डाल रहे हैं। वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि हम अपने जंगल एरिया में सुरक्षा कर रहे हैं। खेतों में फैला रहे करंट को लेकर राजस्व और एमपीईबी को कार्रवाई करना चाहिए। संयुक्त पहल न होने से लगातार घुनघुटी क्षेत्र में वन्यजीवों का शिकार हो रहा है। इसके बाद भी विभाग गंभीर नहीं है।

घुनघुटी क्षेत्र में करंट से इस तरह हो रहा शिकार
- 5 साल पहले बाघ का शिकार
घुनघुटी क्षेत्र में पांच साल पहले भी करंट लगाकर बाघ का शिकार किया गया था। दिसंबर २०१२ में शिकार करने के बाद आरोपियों ने बाघ की खाल निकाल ली थी। वन विभाग ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर खाल बरामद की थी।

- जंगली स्वाइन का शिकार
घुनघुटी क्षेत्र में कई बार खेतों में करंट लगाकर जंगली ***** का शिकार किया गया है। हाल ही में १७ नवंबर २०१७ को घघड़ार के नजदीक जंगली स्वाइन का शिकार किया गया था। मामले में तीन आरोपियों की अभी गिरफ्तारी हुई है।

- करंट बिछाकर बाघ का शिकार
हाल ही में घुनघुटी के धोरई में बाघ के शिकार मामले में वन विभाग ने पांच आरोपियों को पकड़ा था। आरोपियों ने खेत में करंट लगाकर बाघ का शिकार किया था। इसी क्षेत्र में करंट लगाकर दो बार स्वाइन का शिकार भी किया था।

कैमरा लगाने का प्रयास चल रहा
डीएफओ वासु कन्नौजिया ने कहा हां घुनघुटी क्षेत्र में बाघों का लगातार मूवमेंट बना रहता है। इस क्षेत्र में 6 से 7 बाघों का मूवमेंट है। खेतों में करंट लगाकर शिकार बेहद गंभीर मामला है। हम इन क्षेत्रों में कैमरा लगाने का प्रयास कर रहे हैं। जिससे मूवमेंट पर नजर रखी जा सकेगी।

Shahdol online
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned