एसई ने किया फर्जीवाड़ा, फर्जी दस्तावेज लगाकर ले ली पदोन्नति

एसई ने किया फर्जीवाड़ा, फर्जी दस्तावेज लगाकर ले ली पदोन्नति
SE commits fraud, took promotion by putting fake documents

Lav Kush Tiwari | Publish: Sep, 21 2019 06:00:00 AM (IST) Shahdol, Shahdol, Madhya Pradesh, India

मामला आरईएस विभाग में पदस्थ अधीक्षण यंत्री का

शहडोल. आरईएस विभाग में संभागीय अधिकारी की कुर्सी पर आसीन अधीक्षण यंत्री एपी सिंह द्वारा फर्जी और कूट रचित दस्तावजों के आधार पर पदोन्नति लेने और शासन को गुमराह और गलत जानकारी देकर फर्जीवाड़ा करने का मामला कमिश्नर के संज्ञान में आया है। मामले की शिकायत आनंद बहादुर सिंह ने कमिश्नर से की है। इस मामले में कमिश्नर ने जांच के आदेश अपर आयुक्त अमर सिंह बघेल को दिए हैं। इसके बाद अपर आयुक्त ने 17 सितंबर को एपी सिंह से सात दिवस में जवाब देने को कहा है।
एपी सिंह ने फर्जी डिग्री लगाकर ली पदोन्नति-
कमिश्नर को की गई शिकायत में दस्तावजों और साक्ष्यों को प्रस्तुत करते हुए बताया गया है कि एपी सिंह डिप्लोमा डिग्री के आधार पर विभाग में उपयंत्री के पद पर पदस्थ हुए थे तथा वर्ष 2006 में पत्राचार के माध्यम से डिग्री कोर्स करने की अनुमति प्राप्त करते हुए विभाग में आवेदन दिया और मुख्य अभियंता आरईएस विभाग ने 25 सितंबर 2006 को डिग्री कोर्स करने की अनुमति दी। इस अनुमति के आधार पर एपी सिंह ने एक जाली विश्वविद्यालय भारतीय शिक्षा परिषद लखनऊ से अपना डिग्री का कोर्स पूरा किया। एपी सिंह ने विभाग को गुमराह करते हुए अनुमति प्राप्त करने के पहले ही 2005 में डिग्री हासिल कर विभाग को गुमराह कर गलत जानकारी देकर पदोन्नति प्राप्त किया। इस मामले में शिकायतकर्ता ने एपी सिंह के विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज करने और राशि वसूली किए जाने की मांग की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned