कलेक्टर की अधिकारियों को दो टूक अवैध खनन करने वालों को भेजो जेल

कलेक्टर ने पूछा क्यों कम किए गए मामले दर्ज

शहडोल. जिले में हो रहे अवैध खनन और परिवहन को लेकर कलेक्टर ने सख्त रवैया अपनाते हुए दो टूक शब्दों में राजस्व और खनिज विभाग के अधिकारियों से कहा है कि किसी हाल में अवैध खनन और परिवहन नहीं होना चाहिए और ऐसा खनन कर्ताओं के विरुद्ध मामलादर्ज कर उन्हें जेल भेजवाएं। उक्त निर्देश कलेक्टर डॉ. सतेन् राजस्व अधिकारियों की बैठक के दौरान दिए। उन्होने कहा कि रेत और कोयले के अवैध उत्खनन और परिवहन के मामले कम क्यों किए गए हैं। यह अधिकारियों की उदासीनता को दर्शाता हैं। कलेक् टर ने सभी एसडीएम, तहसीलदारों तथा खनिज विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे रेत और कोयले के अवैध उठप्तखनन, परिवहन और भण्डारण करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करें।
चालू वित्तीय वर्ष में 253 मामले-
समीक्षा बैठक में खनिज अधिकारी फरहत जहां ने बताया कि पिछले वित्तीय वर्ष में खनिज के अवैध परिवहन के 530 प्रकरण बनाए गए थे, तथा इस वित्तप्तीय वर्ष में अवैध परिवहन के 254 प्रकरणा बनाए गए हैं। समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने कहा कि जिले में अवैध खनिज परिवहन के काफी कम प्रकरणा बनाए गए हैं। कलेक्टर ने भूमि आवंटन और सीमाकंन के बडी संख्या में प्रकरण लंबित रहने पर नाराजगी व्यक्त की तथा एसडीएम और तहसीलदारों को निर्देश दिए कि भूमि आवंटन और सीमाकंन के लंबित प्रकरणों की निराकरण 31 मार्च तक कराएं।
राशन दुकानों का करें निरीक्षण-
कलेक्टर ने सभी तहसीलदारों एवं नायब तहसीलदारों को निर्देश दिए कि वे राशन दुकानों को और अधिक सुचारू और पारदर्शी बनाएं और सतत निरीक्षण करें। कलेक्टर ने खाद्य विभाग द्वारा चलाए जा रहे गरीबी रेखा के नीचे पालप्ता हितग्राहियों के सत्यापन कार्य की भी समीक्षा की। समीक्षा के दौरान सत्यापन कार्य की स्थिति ठीक नहीं पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। बैठक में जिले भर के अधिकारी उपस्थित रहे।

Show More
lavkush tiwari Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned