भोपाल को हराकर शहडोल टीम फाइनल में

भोपाल को हराकर शहडोल टीम फाइनल में

shivmangal singh | Publish: Apr, 17 2018 08:40:18 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

पूजा वस्त्रकार ने फिर खेली धुंआधार पारी, 5 चौकों 5 छक्के लगाकर बनाए ८१ रन

शहडोल। मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन द्वारा स्थानीय गांधी स्टेडियम में अंडर १९ महिला क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। मंगलवार को भोपाल और शहडोल टीम के बीच पहला सेमीफाइनल मैच खेला गया। जिसमें शहडोल की टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए १०६ रनों से मैच जीत लिया। जिसमें ५ चौकों व ५ छक्कों की मदद से पूजा वस्त्रकार ने ४८ गेंदों में शानदार ८१ रनों की पारी खेली। शहडोल टीम से खेल रहीं रीना यादव ने भी ७८ गेंदों में ६३ रनों और संस्कृति गुप्ता ने ८२ गेंदों पर ६० रनों का योगदान दिया। शहडोल टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित ५० ओवरों में २९८ रन बनाए और भोपाल टीम को २९९ रनों का लक्ष्य दिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भोपाल की टीम १९२ रनों पर ही ढेर हो गई। शहडोल टीम ने १०६ रनों से सेमीफाइनल जीतकर फाइनल में जगह बनाई। बुधवार को दूसरा सेमीफाइनल मैच इंदौर और रीवा टीम के बीच खेला जाएगा। इसमें विजेता टीम १९ अप्रैल को फाइनल मैच में शहडोल से भिड़ेगी।
शहडोल टीम का प्रदर्शन
खिलाड़ी गेंद रन
रीना यादव ७८ ६३
वैष्णवी सिंह २१ ०२
संस्कृति गुप्ता ८२ ६०
पूजा वस्त्रकार ४८ ८१
शशिकला यादव ५६ ३३
स्वाती बर्मन ११ ०२
पूनम सोनी ०१ ००
मुस्कान मिश्रा ०८ ०८
(५० ओवर में कुल २९८ रन )

..........................................................................

गोंदिया सात घंटे लेट आई
शहडोल। शादियों के सीजन में ट्रेनों में यात्रिओं की भीड़ देखी जा रही है। वहीं ट्रेनें भी लेट आ रहीं हैं। मंगलवार को बरौनी गोंदिया एक्सप्रेस सुबह सवा नौ की जगह साढ़े सात घंटे देरी से शहडोल पहुंची। इसी तरह होलीडे स्पेशल जम्मूतवी दुर्ग ४ घंटे और हबीबगंज पुरी एक घंटे देरी से आई।
......................................................................
मौसम ने फिर बदली करवट, पारा 40 पर
शहडोल। मौसम ने एक बार फिर करवट बदली है। अधिकतम पारा ४० पर तो न्यूनतम पारा भी २७ डिसे दर्ज किया गया। चिलचिलाती धूप के कारण दोपहर में शहर की सड़कें वीरान हो गईं। सुबह ८ बजे से ही दोपहर की तरह तीखी धूप चुभना शुरु हो गईं। दोपहर के समय गर्म हवाओं के थपेड़ों ने लोगों को हलाकान कर दिया। कूलर-पंखों के सामने बैठे लोग भी पसीना पोंछते नजर आए। एकाएक बढ़े तापमान ने देर रात तक उमस का वातावरण बनाए रखा। ऐसे मौसम में डॉक्टर बेहद सावधानियां बरतने की सलाह दे रहे हैं। इसके पहले रिमझिम बारिश ने फिजा में ठंडक घोल दी थी और अधिकतम, न्यूनतम पारा नीचे आ गया था। दूसरे दिन खुले आसमान और सूर्य के तेवर देखकर लोग परेशान दिखे। आने वाले चार-पांच दिनों में मौसम के मिजाज गर्म रहने का अनुमान है। अधिकतम पारा ४१ पर बने रहने की संभावना जताई जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned