...तो इस कारण से शहर वासियों को नहीं मिल रहे नए २०० और ५० के नए नोट

करंसी चेस्ट में नहीं आ रहे नए नोट-नए लॉट में आ सकते हैं नए २००-५० रूपए के नोट

By: Murari Soni

Updated: 13 Nov 2017, 11:39 AM IST

मुरारी सोनी शहडोल

शहडोल। शहर के गली चौराहों पर यह चर्चा आम है कि बाजार में नए २००-५० के नोट आ चुके हैं, पर अभी तक हमारे शहर में नए नोट दिखते नहीं हैं, तो इसका जबाब यह है कि शहडोल में विगत ३-४ माह से करंसी का स्टॉक बना हुआ है। पर्याप्त करंसी होने के कारण बैंकों द्वारा रिजर्व बैंक से करंसी की मांग नहीं की जा रही है। जब बैंक करंसी की मांग करेंगे तो हो सकता है कि लॉट में २०० और ५० रूपए के नए नोट आ जाएं।
जानकारी के मुताबिक शहडोल जिले में सरकारी, प्राइवेट, ग्रामीण और कॉपरेटिव बैंकों की करीब ७५ शाखाएं हैं। बैंकों में पैसा पहुंचाने के लिए आधा दर्जन करंसी चेस्ट हैं, जिनके माध्यम से बैंको को पैस पहुंचाया जाता है। करंसी चेस्ट में तीन चार माह से करंसी का पर्याप्त स्टॉक है। इस लिहाज से नए लॉट की मांग रिजर्व बैंक से नहीं की जा रही है। हालाकि इलाहाबाद और बैंक ऑफ बड़ौदा की बैंक शाखाओं में नए २००-५० रूपए के नोट देने की चर्चाएं हैं। कहा जाता है कि इन दोनों की बैंकों की करंसी चेस्ट कटनी में है, जिस कारण कटनी से नए २००-५० रूपए के नोट शहर तक आ गए हैं। वहीं बैंक अधिकारी बताते हैं कि जिले में इतनी करंसी है कि बैंकों को भारतीय रिजर्व बैंक से नया लॉट मांगने की जरूरत नहीं पड़ रही है। हालाकि बैंकों की डिमांड पर नए लॉट आने के बाद शहर की बैंकों में भी नए २००-५० के नोट आ सकते हैं।
महिनों बीत गए पर दिखाई नहीं दे रहे नए नोट
स्थानीय लोगों की माने तो नए २०० और ५० के नोट आए महिनों बीत गए हैं, लोगों में नए नोटों को लेकर जिज्ञासा बनी हुई है। पर अभी तक बाजार में यह नोट दिखाई नहीं दे रहे हैं। शहर में चर्चाओं का बाजार गर्म है। युवा वर्ग व्हॉट्सएप और फेसबुक पर ही नए नोटों पर चर्चाएं कर रहे हैं।

फैक्ट फाइल
* जिले में सरकारी, प्राईवेट, ग्रामीण व कॉपरेटिव बैंकों की ७५ शाखाएं।
्र* इलाहाबाद-बैंक ऑफ बड़ौदा की करंसी चेस कटनी से आए थे नए नोट।
* जिले में आधा दर्जन करंसी चेस में नहीं आए हैं नए नोट।
* ३-४ महिनों में जिले में करंसी का स्टॉक बना हुआ है।

---रिजर्व बैंक से करंसी मंगाते हैं, विगत कुछ माहों से जिले में करंसी का स्टॉक बना हुआ है। जब हम अगला लॉट मंगवाएंगे तो नए २०० और ५० के नोट आ सकते हैं।
विजय चौरसिया
अग्रणी बैंक जिला प्रबंधक शहडोल।

Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned