तस्वीरें बोलती हैं साहब! मुख्यमंत्री को भेजी अधूरी रिपोर्ट, अंकुरित धान की छिपाई जानकारी

गिनती के सिर्फ 13 क्विंटल धान खराब बताया

By: amaresh singh

Published: 14 Sep 2021, 12:06 PM IST

शहडोल. ये तस्वीरें शहडोल से सटे छतवई गांव में भंडारण के लिए बनाए गए ओपन कैप की है। यहां पर बड़ी मात्रा में धान का भंडारण किया गया था। पूरी बारिश धान भीगती रही लेकिन अधिकारियों की नींद नहीं टूटी। धान की बोरियों में अंकुरण आने के बाद मामला तूल पकड़ा तो लापरवाह अधिकारियों ने पूरे मामले में पर्दा डालने के लिए बोरियां की गायब करा दी। मजदूरों को लगाकर ट्रक के माध्यम से अधिकांश बोरियां मिलिंग के लिए भेजी गई तो धान से अंकुरित कई बोरियों को ठिकाने लगवा दिया। अधिकारियों ने टीम गठित करते हुए जांच टीम बनाई लेकिन गठजोड़ में शामिल अधिकारियों ने टीम पहले ही पहुंचने से पहले ही अंकुरित धान की बोरियों को हटवा दिया। बाद में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक अधूरी जानकारी के साथ रिपोर्ट भेजी है। अधिकारियों ने रिपोर्ट में कहा है कि बारिश की वजह से कई बोरियों की धान बदरंग, नमीयुक्त और खराब हुई है लेकिन अंकुरित धान की बोरियां नहीं मिली है। विभागीय सूत्रों की मानें तो अधिकारियों ने खुद को बचाने के लिए अंकुरित धान की बोरियां हटवाते हुए अधूरी रिपोर्ट भेजी है। संयुक्त जांच में लालपुर हवाई पट्टी ओपन कैप एवं छतवई ओपन कैप कैप में अनुमानित 13 क्विंटल धान नमीयुक्त बदरंग और खराब मिली है। जबकि अधिकांश बोरियों की धान खराब थी।


नुकसानी रिपोर्ट में उजागर होगी करतूत
अधिकारियों द्वारा वर्तमान में कम मात्रा में धान को खराब होना बताया जा रहा है। अधिकारी अभी गिनती की बोरियां खराब बता रहे हैं लेकिन अधिकांश बोरियां भीग चुकी है। अब लॉस रिपोर्ट में अधिकारियों की करतूत उजागर होगी। सूत्रों की मानें तो 5 प्रतिशत से ज्यादा लॉस जाएगा।


लालपुर में 10 और छतवई में 3 क्विंटल खराबी
लालपुर हवाई पट्टी पर निर्मित ओपन कच्चे कैप में वर्तमान में 50 स्टैक था। जिसमें अनुमानित 7.50 से 10 क्विंटल धान नमी युक्त बदरंग और खराब बताया है। इसी तरह छतवई ओपन कैप में वर्तमान कुल 32 स्टैक है। जिसमें अनुमानित 3 क्विंटल धान नमीयुक्त बदरंग और खराब मिली है।
सोमवार को कलेक्ट्रेट में समय-सीमा की बैठक में भी धान खराब होने का मुद्दा उठा। कलेक्टर वंदना वैद्य ने महाप्रबंधक खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं वेयर हाउस के अधिकारियों को निर्देशित किया कि ओपन कैप में रखें खाद्यान्नों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाए। किसी भी स्तर में लापरवाही न हो।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned