पांच दिन में मेडिकल कॉलेज में दस कोरोना मरीजों की मौत

बीपी की थी शिकायत

By: amaresh singh

Updated: 12 Sep 2020, 10:20 PM IST

शहडोल। मेडिकल कॉलेज में कोरोना से अब हर दिन मौत होने लगी है।पिछले पांच दिन में दस कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। शनिवार को मेडिकल कॉलेज में कोरोना से एक वृद्ध की मौत हो गई है। कोतमा निवासी 60 वर्षीय वृद्ध तीन दिन पहले तबीयत खराब होने पर मेडिकल कॉलेज में भर्ती हुए। इनको बीपी की शिकायत थी। इनका पंाच दिन पहले से तबीयत खराब था। इस दौरान इलाज के बाद भी इनको सांस लेने में दिक्कत हो गई और शरीर में ऑक्सीजन का लेबल कम हो गया। इस पर इनको आईसीयू में वेटिंलेटर पर रखा गया। इसके बाद भी इनके तबीयत में सुधार नहीं आया और हालत बिगड़ती गई। शुक्रवार रात को इनकी तबीयत अचानक से बेहद खराब हो गई और शनिवार सुबह लगभग 11.30 बजे इनकी मौत हो गई।


संभाग में कोरोना से 22 लोगों की मौत
इसी के साथ संभाग में कोरोना से अब तक में 22 लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें सबसे ज्यादा शहडोल के लोगों की मौत हुई है। शहडोल में 15 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। अनूपपुर में 4 कोरोना मरीजों की तथा उमरिया में 3 कोरोना मरीजों की मौत हुई है।

जिले में 59 नए कोरोना के मरीज मिले
जिले में कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। कोरोना संक्रमण में हर दिन इजाफा हो रहा है। शनिवार को जिले में कोरोना के 59 नए मरीज मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने 48 कोरोना मरीजों को होमआइसोलेशन तथा 11 कोरोना मरीजों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया है। अब स्वास्थ्य विभाग इन कोरोना मरीजों के प्रथम संपर्क को खंगाल रहा है। प्रथम संपर्क वाले लोगों का सैंपल लेकर जांच कराया जाएगा। वहीं प्रशासन कोरोना मरीजों के निवास स्थल को कंटेनमेंट एरिया में तब्दील कर रहा है।


618 मरीज हुए स्वस्थ
जिले में अब तक कोरोना के 907 मरीज मिल चुके हैं। इसमें से 618 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हो चुके हैं। शनिवार को मेडिकल कॉलेज में 7 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हो गए हैं। वर्तमान में कुल 276 कोरोना के एक्टिव मरीज है।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned