बीती रात रही सीजन की सबसे ठंडी रात

शहर का पारा 2 तो अंमरकंटक में 0 डिग्री पर जम गई ओस

By: Murari Soni

Published: 04 Jan 2018, 08:44 PM IST

शहडोल। क्षेत्र में सर्द हवाएं जोर पकड़ रहीं हैं। बीती रात सीजन की सबसे ठंडी रात महसूस की गई। अधिकतम तापमान 25 और न्यूनतम 2 डिसे दर्ज किया गया। वहीं अमरंकट मे पारा 0 डिग्री पर पहुंचा और तड़के सुबह ओस की बूंदे जम गई। गाडिय़ों के कांच पर बर्फ जमी, लोगों ने कड़कड़ाती ठंड महसूस की। इसके अलावा अनूपपुर, मंडला, डिंडोरी में शीत लहर भी चल रहीं हैं। सर्द हवाएं रात के समय अधिक जोर पकड़ रहीं हैं। सबसे ज्यादा कड़ाके की ठंड ग्रामीण अंचलों मे महसूस की जा रही है। वहींडिंडोरी जिले के बजाग व करंजिया क्षेत्रों में रात के समय न्यूनतम पारा १ डिसे तक बना हुआ है। ऐसे मौसम में किसानों को भी अपनी फसलों की चिंता होने लगी है। इस समय किसानों की आलू, टमाटर, मटर सहित अन्य सब्जियों की फसल व रवि फसलें खेतों में हैं। शीत लहर से फसलों में तुषार लगने का अंदेशा बना हुआ है। सर्द हवाएं फसलों को चौपट कर सकती हैं। कृषि वैज्ञानिक पीएन त्रिपाठी किसानों को सावधानियां बरतने और सिविल सर्जन एनके सोनी लोगों को सर्द हवाओं से बचने की बात कर रहे हैं।

आगे और गिर सकता है पारा
दिनांक अधिकतम न्यूनतम पारा
05 जनवरी 22 डिसे 2 डिसे
06 जनवरी 21 डिसे 2 डिसे
07 जनवरी 22 डिसे 2 डिसे
08 जनवरी 22 डिसे 1 डिसे
09 जनवरी 22 डिसे 3 डिसे

फसल बचाने अपनाएं वैज्ञानिक उपाय
-फसलों की जड़ों पर नमी रखें, सूखी जमीन पर नुकसान
-फसलों को सीधी हवा न लगने दें
-हवा की दिशा में छोटी फसलों को बेरीकेट कर सकते हैं
-सब्जियों की फसल में रात का पॉलीथिन ढांक सकते हैं
-छोटे पौधों की सुरक्षा जरूरी
-अरहर फसल बचाने करें सिंचाई
-तुषार से फसल बचाने रात को धुंआ करें
-शाम को ग्लूकोज का ५ ग्राम प्रतिलीटर घोल बनाकर छिड़काव करें

सर्द हवाओं से बचें, बरतें सावधानियां
-रात के समय गुनगुना पानी पिएं
-सोडा, कोल ड्रिंग्स से परहेज करें
-खुली हवा से बचें
-बाइक चलाते समय हेलमेट पहने और नाक-कान ढके रहें
-बच्चों का विशेष ध्यान रखा जाए
-शीत लहर से बचने घर की खिड़कियां-दरवाजे बंद रखें
-पेट की समस्याओं से बचें
-अधिक रात को सफर न करें

Murari Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned