scriptThe footprints of wild elephants are again seen, the settlements are b | जंगली हाथियों के फिर दिखे पद्चिन्ह, जंगलों से खाली करा रहे बसाहट | Patrika News

जंगली हाथियों के फिर दिखे पद्चिन्ह, जंगलों से खाली करा रहे बसाहट

दो हाथियों के मूवमेंट के संकेत मिलने के बाद सक्रिय हुआ वन विभाग

शाहडोल

Published: June 12, 2022 10:05:23 pm


- जयसिंहनगर वन परिक्षेत्र के नदना, वनचाचर व अमझोर बार्डर क्षेत्र में बढ़ाई गश्ती
शहडोल. जंगली हाथियों ने एक बार फिर से वन कर्मचारियों की नींद उड़ा दी है। जयसिंहनगर वन परिक्षेत्र के कुछ हिस्सों में दो हाथियों की मौजूदगी के संकेत मिले हैं। जिसके बाद पूरा का पूरा वन अमला अलर्ट हो गया है। पिछले तीन दिन से वन विभाग के अधिकारी कर्मचारी अलग-अलग क्षेत्रों में पूरा दिन मुनादी कराते हैं और रात के समय गश्ती कर जंगल में बने घरो में रह रहे लोगों को बस्ती में पहुचाने का काम कर रहे हैं। स्थिति यह है कि वन विभाग की समझाइश के बाद भी ग्रामीण मानने के लिए तैयार नहीं है। जिसके चलते वन विभाग को और ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि अभी तक हाथियों के इस दल ने कहीं किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाया है। फिर भी पूर्व में घटित घटना के बाद वन विभाग सतर्कता बरत रहा है।
जंगली हाथियों के फिर दिखे पद्चिन्ह, जंगलों से खाली करा रहे बसाहट
जंगली हाथियों के फिर दिखे पद्चिन्ह, जंगलों से खाली करा रहे बसाहट
यहां दिखे दो हाथियों के पदचिन्ह
जयसिंहनगर वन परिक्षेत्र के अलग-अलग क्षेत्रों में दो हाथियों की मौजूदगी के संकेत मिले हैं। नदना, व वनचाचर बीट के साथ ही जयसिंहनगर व अमझोर के बार्डर में दो हाथियों के पदचिन्ह देखे गए हैं। जिसके बाद विभाग इन क्षेत्रो में पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। जंगल से लगे क्षेत्रो में गश्ती बढ़ा दी गई है। लोगों को जंगल की ओर न जाने की समझाइश दी जा रही है। बावजूद इसके ग्रामीण मानने तैयार नहीं है जिससे वन अमले की मुसीबतें और बढ़ गई है।
7-8 गांवो में प्रतिदिन कर रहे गश्ती
हाथियों की मौजूदगी के प्रमाण मिलने के बाद जयसिंहनगर वन परिक्षेत्र का लगभग 30 कर्मचारियों का स्टॉफ व अधिकारी ग्रामीणों की सुरक्षा में लग गए हैं। अधिकारी व कर्मचारी अलग-अलग टीम बनाकर मोहनी, बांसा, विनयका सहित 7-8 गांवो में प्रतिदिन गश्त कर लोगों को सुरक्षित करने में लगे हुए हैं। मुनादी कराने के साथ ही जंगल में जिन लोगो ने घर बना लिया है उन्हे बस्ती में पहुंचा रहे हैं।
ग्रामीणों को समझाना सबसे बड़ी चुनौती
वन विभाग के अधिकारियों की मानें तो उनके लिए ग्रामीणों को समझाना सबसे बड़ी चुनौती है। बस्ती में घर होने के बाद भी प्रत्येक गांव में 8-10 लोगों ने जंगल की सीमा में दूर-दूर घर बना रखा है। पूरा दिन बस्ती में रहने के बाद शाम के वक्त वह जंगल में बने घरों में चले जाते हैं। ऐसे में कोई भी अप्रिय घटना घटित होने की संभावना बनी रहती है। समझाइश देने के बाद भी वह मानने तैयार नहीं है।
वन परिक्षेत्र के कुछ जंगली क्षेत्रों में दो हाथियों के पदचिन्ह मिले हैं। जिसके बाद निगरानी बढ़ा दी है। कुछ ग्रामीणों ने जंगल में घर बना रखा है। जहां से उन्हे सुरक्षित बस्ती में पहुंचाया जा रहा है। गांवो में मुनादी कराई जा रही है।
रवीन्द्रनाथ तिवारी, वन परिक्षेत्राधिकारी अमझोर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

अरविंद केजरीवाल ने जारी किया मिस्ड कॉल नंबर, भारत को नंबर वन देश देखने वालों से की घंटी बजाने की अपीलCBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: मनीष सिसोदिया के घर CBI रेड के विरोध में प्रदर्शन कर रहे AAP कार्यकर्ताओं पुलिस ने हिरासत में लियाबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'बिलकिस बानो केसः 6000 से अधिक सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की रिहाई को रद्द करने की मांग कीMumbai Building Collapse: मुंबई में बड़ा हादसा, बोरीवली इलाके में चार मंजिला इमारत ढही, कई लोगों के दबे होने की आशंकाक्यों मनीष सिसोदिया के घर पर CBI कर रही छापेमारी? जानिए क्या है पूरा मामलाअमित शाह का भोपाल दौरा, चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बनाएंगे खास रणनीतिJanmashtami 2022: मुंबई और ठाणे में इन जगहों पर लगी है सबसे उंची दही हांडी, 10 थर लगाने पर 21 लाख का इनाम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.