scriptThis road could not be built even after seven years, it is difficult t | सात साल बाद भी नहीं बन पाई यह सड़क, बरसात में पैदल चलना भी होता है दूभर | Patrika News

सात साल बाद भी नहीं बन पाई यह सड़क, बरसात में पैदल चलना भी होता है दूभर

एसईसीएल से सिर्फ मिल रहा आश्वासन, अब तक नहीं हुई सड़क बनाने पहल

शाहडोल

Published: June 17, 2022 12:44:38 pm

शहडोल/धनपुरी. शहर की सड़कें पहले से ही लोगों के लिए समस्या का कारण बनी हुई थी। बारिश में अब समस्या और बढ़ जाएगी। कोयलांचल का संजय नगर रोड पर चलना पहले से ही कष्टदायी था अब बारिश में यह सड़क पूरी तरह से कीचड़ में तब्दील हो जाएगी। पिछले दिनों हुई बारिश के कारण 1 किलोमीटर की यह सड़क पूरी तरह से कीचड़ में बदल गई है। सड़क का हाल तो ऐसा नजर आता है जैसे यह सड़क नहीं बल्कि कोई मैदान हो। 7 साल से अधिक समय बीत चुका है सड़क निर्माण की मांग सालों से की जा रही है लेकिन इसके बाद भी सड़क निर्माण को लेकर जिम्मेदारों ने अपनी आंख में पट्टी बांध रखी है।
हजारों लोग हर दिन करते हैं आवागमन
इस सड़क से हजारों की संख्या में प्रतिदिन लोग आवागमन करते हैं फिर भी इसके सुधार को लेकर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। लोगों का कहना है कि यह सड़क पहले से ही समस्या का कारण थी और बारिश में इस पर चलना और कष्टदायी हो जाएगा। सड़क में मिट्टी होने के कारण एक किलोमीटर तक की पूरी सड़क में कीचड़ फैल जाता है जिससे दुर्घटनाओं से भी इंकार नहीं किया जा सकता। लोगों का यह तक कहना है कि प्रबंधन को किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार है। जब तक कोई बड़ी दुर्घटना इस सड़क के कारण न हो जाए तब तक प्रबंधन इस ओर कोई ध्यान नहीं देगा। संजय नगर गेट के पास कीचड़ से सनी इस सड़क पर पैदल चलना भी काफी मुश्किलों भरा होता है। सालों पहले कोयला खदान खोलने के कारण मुख्य मार्ग को बंद करके इस नए मार्ग को शुरु कराया गया था। तब यह बात कही गई थी कि जल्द से जल्द इस सड़क का निर्माण कराया जाएगा लेकिन सड़क में मुरम डालकर खानापूर्ति कर ली गई।
सड़क पर बने जानलेवा गड्ढे
इसी तरह अमलाई ओपन कास्ट से होकर अमरकंटक की ओर जाने वाली सड़क दिन प्रतिदिन जर्जर होती जा रही है। इस मार्ग पर जानलेवा गड्ढे नजर आने लगे हैं। इस मार्ग से भी आवागमन करने में लोगों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। बरसात के कारण समस्याओं में और भी इजाफा होता हुआ नजर आ रहा है। इस सड़क से प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में बड़े वाहनों के साथ लोगों का आवागमन होता है। वहीं दूसरी तरफ खदानों की सड़कों के परखच्चे उड़ गए और इनमें आवागमन करना आसान नहीं है। अमलाई ओपन कास्ट गेट से लेकर सवएरिया कार्यालय तक कि सड़क भी पिछले दिनों हुई बारिश के कारण कीचड़ में तब्दील हो गई। बरसात से पहले इस सड़क निर्माण कराने की मांग की जा रही थी लेकिन सिविल विभाग की उदासीनता के कारण इसका निर्माण नहीं हो सका जबकि सड़क का टेंडर हो चुका था और अगर समय रहते इसका निर्माण करा दिया गया होता तो इस बरसात में लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता।

सात साल बाद भी नहीं बन पाई यह सड़क, बरसात में पैदल चलना भी होता है दूभर
सात साल बाद भी नहीं बन पाई यह सड़क, बरसात में पैदल चलना भी होता है दूभर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पारडिप्टी सीएम बनने के बाद आज पहली बार लालू यादव से मिलेंगे तेजस्वी यादव, मंत्रालयों के बंटवारे पर होगी चर्चाRajasthan BSP : 6 विधायकों के 'झटके' से उबरने की कवायद, सुप्रीमो Mayawati की 'हिदायत' पर हो रहा कामJammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीबिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'बिहार वृक्ष सुरक्षा दिवस' कार्यक्रम में हुए शामिल, पेड़ को बांधी राखी, कहा - वृक्ष की भी होनी चाहिए रक्षाअमरीका: गर्भपात के मामले में फेसबुक ने पुलिस से शेयर की माँ-बेटी की चैट हिस्ट्री, अमरीका से लेकर भारत तक रोष, निजता के अधिकार पर उठे सवालLegends league के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को वीजा देगा भारत?, BCCI अधिकारी ने कही ये बात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.