सब्जी उत्पादक किसानों को मुडऩा पार रोका, मंडी में नहीं पहुंची सब्जियां, तीन गुना बढ़े दाम

मंडी बंद रहने से सब्जियों के दाम कई गुना बढ़े, बाजार से भी सब्जी व्यापारियों को खदेड़ा

By: amaresh singh

Published: 04 May 2021, 11:56 AM IST

शहडोल. सब्जी उत्पादन किसान पहले से ही बाजार में खपत कम होने की वजह से आर्थिक परेशान हैं। सोमवार को फिर सब्जी उत्पादक किसानों को कल्याणपुर मार्ग में मुडऩा नदी के पार रोक दिया।
बाजार में सब्जी न पहुंचने की वजह से शहर में सब्जियों के दाम अचानक कई गुना बढ़ गए। जो टमाटर पांच रुपए किलो बिक रहा था वह अचानक 20 से 30 रुपए किलो बिकने लगा। यही हालत दूसरी सब्जियों का भी रहा। इसका कारण गांव से सब्जी मंडी में सब्जियों का नहीं पहुंचना रहा। गांव से सुबह के समय सब्जी उत्पादक सैकड़ों किसान सब्जियां लेकर मंडी के लिए आ रहे थे लेकिन पुलिस ने उन्हें मुडऩा के पास रोक दिया और वापस लौटा दिया।
इससे परेशान होकर सब्जी उत्पादक किसान गांव को लौट गए। गांव से सप्लाई होने वाली सब्जी भी बाजार तक नहीं पहुंच सकी, जिससे अचानक दाम
बढ़ गए।
पांच रुपए का टमाटर 20 से 30 रुपए पहुंचा
गांव से मंडी में सब्जियां नहीं पहुंचने से व्यापारियों के पास सब्जियों की आवक कम हो गया। इधर पुलिस ने सब्जी मंडी को भी बंद करा दिया। इसके बाद तो जो सब्जियों का स्टाक बचा था उसी को ठेला चालक महंगे दामों पर शहर में बेचने लगे। इससे सब्जियों के दाम कई गुना बढ़ गए। अचानक शहर में सब्जियों के महंगे दाम पर मिलने से लोग परेशान हो गए। लोगों को समझ में नहीं आ रहा था कि कल तक जो टमाटर पांच रुपए किलो बिक रहा था। अब अचानक 20 से 30 रुपए किलो कैसे बिकने लगा। व्यापारियों के अनुसार, पुलिस इसी तरह गांव से सब्जियों की आवक को रोक देगी तो सब्जियों का भाव में काफी उछाल आ जाएगा। इससे आम लोगों को महंगे दाम पर सब्जियां खरीदने को मजबूर
होना पड़ेगा।
गांव से हरी सब्जियों को लेकर हम सभी किसान सब्जी मंडी में जा रहे थे लेकिन पुलिस ने मोडऩा के पास रोक दिया। इससे सभी किसान वापस लौट गए।
खूबचंद पटेल, किसान

किसानों के खेत में सब्जियां पड़ी हुई हैं। सब्जियों का भाव तक नहीं मिल रहा है। हम लोग सब्जियां लेकर सब्जी मंडी जा रहे थे तो पुलिस ने रोक दिया। इससे वापस लौटना पड़ा। आखिर सब्जियों का क्या करें समझ में नहीं आ रहा है।
सीतेश जीवन पटेल, किसान

प्रशासन ने सब्जी मंडी बंद करवा दिया है। इससे किसान गांव से सब्जियों को लेकर नहीं आ सके। थोक वालों को माल बेचने नहीं दिया गया। इससे सब्जियों का भाव बढ़ गया।
ललकू पटेल, थोक व्यापारी

मंडी को बंद करवा दिया गया। मंडी खुली नहीं। जो रजिस्टर्ड ठेले वाले हैं। वो सब्जी लेकर गए हैं। गांव से भी सब्जियां नहीं आ पाई। आवक कम होने से सब्जियों के भाव बढ़ गए हैं।
श्रीनिवासी पांडे, अध्यक्ष सब्जी मंडी
पुलिस ने दिखाई सख्ती
कोरोना संक्रमण को लेकर जारी गाइडलाइन का पालन कराने पुलिस ने अब सख्ती दिखानी शुरु कर दी है। सोमवार को नगर के सब्जी मण्डी में व्यापारियों ने दुकाने सजाने के साथ ठेला वालों ने भी भीड जुटा रखी थी। सब्जी ठेलो में पूरा शहर उमड़ पड़ा था। लगातार भीड़ बढ़ती जा रही थी। जिसे देखते हुए डीएसपी बीडी पाण्डेय, यातायात डीएसपी अखिलेश तिवारी और कोतवाली थाना प्रभारी राजेशचन्द्र मिश्रा ने अपनी टीम के साथ मिलकर सब्जी मण्डी में जुटी भीड़ को तितर बितर कराते हुए हाथ ठेला वालों को निर्धारित समय तक घूम-घूम कर सब्जी बेचने की हिदायत दी। साथ ही दुकानदारों को भी दुकान के शटर न खोलने के लिए कहा। सभी को समझाइश दी गई कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करें अन्यथा सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान बेवजह घूमने वाले वाहन चालकों के वाहनों की हवा निकालकर दोबार घर से बाहर न निकलने की समझाइश दी गई।

amaresh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned