बांटने से बढ़ता है सब्जी का व्यापार

सब्जी मंडी में तीन साल से हर ग्राहकों को दे रही हैं मुफ्त में धनिया-मिर्ची और उठा रही है तीन बेटियों की जिम्मेदारी

By: brijesh sirmour

Published: 03 Dec 2019, 07:05 AM IST

शहडोल. संभागीय मुख्यालय के सब्जी मंडी में 42 वर्षीय महिला साधना खटिक पिछले तीन साल से दुकान में आने वाले ग्राहक को सब्जी के साथ मुफ्त में धनिया और मिर्ची दे रही है। उसका मानना है कि बांटने से सब्जी के व्यापार में बरकत होती है। ऐसा नहीं है कि वह ग्राहकों से सब्जियों के ज्यादा दाम लेती है, बल्कि बाजार भाव से भी कम दामों में वह सब्जी बेंचती है। साथ में धनिया-मिर्च भी मुफ्त में देती है। महिला साधना खटिक ने बताया है कि वह जब से सब्जी खरीदने वाले ग्राहकों को धनिया-मिर्ची दे रही है, तब से उसकी आय में वृद्धि होना शुरू हो गई है। सुबह से शाम तक उसकी प्रतिदिन सारी सब्जियां बिक जाता है। अब वह सब्जी-भाजी बेंचकर अपना अपनी तीन बच्चियों की जिम्मेदारियां उठा रही है। बड़ी बेटी हिना खटिक नर्सिंग का कोर्स कर रही है, मझली बेटी अलका खटिक कॉलेज की और छोटी बेटी कक्षा दसवीं में पढ़ रही है। अधिवक्ता अमरीश श्रीवास्तव ने बताया कि पिछले दिनो जब वह उक्त महिला के पास सब्जी खरीदने गए तो उसने बिना कहे ही सब्जी के साथ धनिया-मिर्च भी रख दिया और सब्जी के पैसे तो लिए मगर धनिया-मिर्च के पैसे लेने से मना कर दी। इसके बाद अन्य कई ग्राहकों को भी उसने मुफ्त में धनिया-मिर्चा दिया।

Show More
brijesh sirmour
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned