गांव की महिलाएं लिखेंगी कैश बुक, समूह के सभी लेन-देन का तैयार करेंगी खाका

मास्टर बुक कीपर के लिए 38 महिलाओं को किया गया प्रशिक्षित

By: Ramashankar mishra

Published: 17 Mar 2021, 12:29 PM IST

शहडोल. जिले में संचालित स्व-सहायता समूह की महिलाओं को पूर्णरूप से आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। महिलाएं अलग-अलग आर्थिक गतिविधियों से जुड़कर आय अर्जित करने के साथ ही समूह से जुड़े सभी लेखा-जोखा का काम भी स्वयं ही संभालेंगी। कलेक्टर डॉ. सतेन्द्र सिंह व जिला पंचायत सीईओ मेहताब सिंह के निर्देशन में आजीविका मिशन द्वारा महिला समूहों को सशक्त बनाया जा रहा है। इसके लिए महिलाओं को प्रशिक्षित कर मास्टर बुक कीपर के रूप में तैयार किया जा रहा है। जिनके द्वारा समूह की अन्य महिलाओं को भी कैशबुक लिखना, लेजर बुक तैयार करने सहित अन्य लेखा जोखा का पूरा काम सिखाया जाएगा। जिससे कि वह स्वयं पूरा काम संभाल सखे।
वितरित किए गए प्रमाण-पत्र
सोमवार को प्रशिक्षण प्राप्त कर मास्टर बुक कीपर बनी समूह की सभी महिलाओं को प्रमाणपत्र वितरित किए गए। इस दौरान आजीविका मिशन प्रबंधक पुष्पेन्द्र सिंह सहित समूह के अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।
38 महिलाएं प्रशिक्षित
मास्टर बुक कीपर के लिए जिला मुख्यालय में एक सप्ताह का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें जिले के 25 शंकुल में अलग-अलग समूहों की 38 महिलाओं का चयन किया गया था। समूह से चयनित इन महिलाओं को दो महिला प्रशिक्षकों द्वारा एक सप्ताह तक प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें इन्हे कैश बुक लिखना, लेन-देन का पूरा हिसाब तैयार करने के साथ ही समूह से जुडे अन्य कार्यों के संबंध में विस्तार से समझाया गया। इसके बाद इनकी परीक्षा आयोजित की गई। जिसमें 8 महिलाओं ने शत प्रतिशत अंक अजित किए।

Show More
Ramashankar mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned