Patrwari exam- जब सर्वर हुआ फेल, जानिए सेंटर में कैसे थे हालात

जानिए फिर कैसे हुआ एक्जाम ?

By: Shahdol online

Published: 09 Dec 2017, 03:54 PM IST

शहडोल- 9 दिसंबर मतलब शनिवार से पटवारी के लिए ऑनलाइन टेस्ट शुरू हो गए। पहली शिफ्ट की परीक्षा सुबह से थी। एक्जाम तो 9 से 11 बजे के बीच था। लेकिन परीक्षार्थियों को सुबह 7.30 बजे से रिपोर्टिंग टाइङ्क्षमग दी गई थी। दूर-दूर से लोग परीक्षा देने के लिए अपने-अपने सेंटर में पहुंचे। किसी को भी पता नहीं था कि जब वो एक्जाम देने के लिए वहां पहुंचेंगे तो उन्हें कुछ और ही सुनने को मिलेगा। जैसे ही स्टुडेंट अपने-अपने सेंटर में पहुंचे। और रिपोर्टिंग के लिए लाइन पर खड़े हो गए।तो उन्हें पता लगता है की अभी एक्जाम शुरू नहीं हो पाएगा। क्योंकि सर्वर फेल है। वेरीफिकेशन नहीं हो सकता। जिसकी वजह से अभी एक्जाम शुरू नहीं हो पाएगा। जैसे ही परीक्षार्थियों को ये पता लगा। वो परेशान होने लगे की पेपर होगा या नहीं होगा। क्योंकि हर परीक्षार्थी लोकल नहीं था दूर-दूर से लोग पेपर देने के लिए पहुंचे थे।

हम डर गए थे
पटवारी की परीक्षा देने गए कुछ स्टुडेंट ने बताया की उन्हें ये डर सताने लगा की उन्हें फिर से मौका मिलेगा या नहीं। आज वो पेपर दें पाएंगे या नहीं। क्योंकि उन्होंने पटवारी बनने के लिए बहुत मेहनत किया है। और अगर तकनीकी समस्या की वजह से वो पेपर नहीं दे पाते हैं तो उन्हें बहुत अफसोस होता। सेंटर में अफरा-तफरी का माहौल बन चुका था। कुछ को ये डर सता रहा था की कहीं बाद में पेपर ना हो । फिर से वो इतना किराया कैसे जुटा पाएंगे। क्योंकि ज्यादातर परीक्षार्थी बाहर से पहुंचे हुए थे।

देरी से स्टार्ट हुआ एक्जाम
पहले शिफ्ट के एक्जाम में ज्यादातर लोग नहीं बैठ सके। आज सुबह पहली शिफ्ट में प्रदेश के 26 हजार आवेदकों को परीक्षा में शामिल होना था। लेकिन तकनीकी समस्या होने के चलते 18 हजार परीक्षार्थी एक्जाम नहीं दे सके। जिसकी वजह से हड़कंप मच गया। आज के पहली शिफ्ट में केवल 8000 आवेदक ही परीक्षा में शामिल हो सके। इतना नहीं एक्जाम भी समय पर शुरू नहीं हो पाया। जो वैरीफिकेशन 7.30 बजे से शुरू होना था। वो 11 बजे से शुरू हुआ। जहां जिस हिसाब से सर्वर में लिंक मिल रहा था वैरिफिकेशन स्टार्ट हो रहा था। और फिर जो पेपर 9 बजे से होना था। वो देरी से हो सका। उसमें भी कई लोग एक्जाम नहीं दे सके।

सेंटर में हो रहा था अनाउंस
सेंटर में ये कहा जा रहा था की जब तक की निर्देश ना दिए जाएं। लोग सेंटर छोड़कर ना जाएं। क्योंकि जैसे ही लिंक मिलेगा एक्जाम स्टार्ट हो सकते हैं। कुछ स्टुडेंट ने बताया की उनके सेंटर के कुछ लोग बहुत देर होने की वजह से बिना एक्जाम दिए ही चले गए। क्योंकि उन्हें लगा की अब एक्जाम नहीं होगा। वो परीक्षा नहीं दे सकेेंगे। कई स्टुडेंट परेशान होकर वापस लौट गए।

मायूस ना हों फिर होगा एक्जाम
जो परीक्षार्थी टेस्ट में शामिल नहीं हो सके हैं। वो मायूस ना हों। प्रोफेशनल एक्सामिनेशन बोर्ड के एग्जाम कंट्रोलर एस के एस भदौरिया के बयान के मुताबिक पटवारी की पहली परीक्षा में जो लोग शामिल नहीं हो सके हैं। अब इन आवेदकों की रीशेड्यूल परीक्षा होगी । आज के टेस्ट में 8000 परीक्षार्थी ही परीक्षा में शामिल हो सके।

Shahdol online
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned