जब अचानक जांच करने पहुंच गई टीम, मच गया हड़कंप

पढिए पूरी खबर...

By: Akhilesh Shukla

Updated: 25 Apr 2018, 05:24 PM IST

टीम के पहुंचते ही अधिकारियों में हड़कंप, एमसीआई ने तैयार की रिपोर्ट
दूसरी बार औचक अस्पताल पहुंची एमसीआई की टीम, मशीनों को चलाकर देखा
डॉक्टर्स और स्टॉफ की स्थिति की ली जानकारी, वार्डो का किया निरीक्षण

शहडोल- मेडिकल कॉलेज की शुरूआत के पहले दूसरी बार एमसीआई (मेडिकल कांउसिंल ऑफ इंडिया) की टीम मंगलवार को जिला अस्पताल पहुंची। औचक निरीक्षण पर पहुंचे एमसीआई की तीन सदस्यीय टीम के चलते अधिकारियों में हड़कंप की स्थिति निर्मित हो गई। एमसीआई की टीम ने अस्पताल के चप्पे चप्पे पर पहुंचकर निरीक्षण किया। इसके बाद अलग अलग वार्डो में पहुंचकर स्थिति देखी। कई जगहों में कम बिस्तर और सुविधाएं होने पर अस्पताल प्रबंधन से बात की। हालांकि अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ एनके सोनी ने व्यवस्थाओं को जल्द दुरस्त करने की बात कही।


इस दौरान एमसीआई की टीम ने डॉक्टरों की पदस्थापना, रिक्त पदों के अलावा, स्वास्थ्यकर्मियों की पदस्थापना की जानकारी ली। चर्म रोग, टीबी, साइक्रेटिस, सर्जरी और आर्थो के लिए वार्ड में कम जगह होने की बात कही। जबकि गाइनो वार्ड के लिए अतिरिक्त जगह थी। आईसीयू की भी स्थिति का जायजा लिया।

 

चार मशीन हैं तो एक और कहां गई?
अस्पताल प्रबंधन ने एमसीआई की टीम को मोबाइल एक्सरे की चार मशीन बताया। प्रबंधन ने टीम को तीन मशीन दिखाई तो एमसीआई के अफसरों ने तत्काल संज्ञान में लेते हुए पूछा कि चार मशीन बताई है, यहां तो तीन मशीन है। चौथी मशीन बिगड़ी है क्या। इस पर अस्पताल प्रबंधन ने स्टोर में मशीन दिखाई। एमसीआई के अनुसार चार मशीन होनी चाहिए। जिसमें दो फिक्स और दो वार्डो में होनी चाहिए।

 

मशीनों को देखा, तैयार की रिपोर्ट
एमसीआई की टीम ने मशीनों को चलाकर भी देखा। यहां पर रिपोर्ट भी तैयार की। कुछ मशीन बंद थी तो कमियों पर रिपोर्ट तैयार की। इस दौरान एमसीआई की तीन सदस्यीय टीम के अलावा प्रभारी डीन मिलिंद शिलारकर, सिविल सर्जन डॉ एनके सोनी सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।

Akhilesh Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned