एक अक्टूबर से मनाया जाएगा वन्य-प्राणी संरक्षण सप्ताह , स्कूली बच्चों के साथ साझा करेंगें अनुभव

एक अक्टूबर से मनाया जाएगा वन्य-प्राणी संरक्षण सप्ताह , स्कूली बच्चों के साथ साझा करेंगें  अनुभव

Shiv Mangal Singh | Publish: Sep, 02 2018 08:37:08 PM (IST) Shahdol, Madhya Pradesh, India

सांस्कृतिक धरोहर का भी होगा समावेश

एक अक्टूबर से मनाया जाएगा वन्य-प्राणी संरक्षण सप्ताह , स्कूली बच्चों के साथ वन्य प्रणियों के अनुभव को साझा करेंगें वन अधिकारी

शहडोल . जिले में इस वर्ष भी एक से 7 अक्टूबर, 2018 तक वन्य-प्राणी संरक्षण सप्ताह मनाया जायेगा। लोगों में वन और वन्य-प्राणियों के प्रति लगाव और जागरुकता बढ़ाने के उद्देश्य से सप्ताह के दौरान विभिन्न आयोजन के लिये अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक आलोक कुमार ने प्रदेश के सभी टाइगर रिजर्व क्षेत्र संचालक, क्षेत्रीय मुख्य वन संरक्षक, राष्ट्रीय उद्यान के संचालक, समस्त वन मण्डलाधिकारियों को निर्देश जारी कर दिये हैं। उल्लेखनीय है कि विगत वर्षों में बच्चों ने वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताओं में बहुत रुचि और उमंग से भाग लिया। इससे बच्चों में वन और वन्य-प्राणियों के प्रति संवेदनशीलता बढ़ी है।
वन्य प्राणी संरक्षण सप्ताह के दौरान प्रदेश में स्कूली छात्र-छात्राओं के लिये वन्य-प्राणी संरक्षण पर व्याख्यान, निबंध, पेंटिंग आदि विभिन्न प्रतियोगिताएँ होंगी। प्रत्येक परिक्षेत्र में 2 से अधिक संयुक्त वन प्रबंध समितियाँ कार्यक्रम आयोजित करेंगी। कार्यक्रम में स्थानीय समुदाय और सांस्कृतिक धरोहर का भी समावेश होगा। स्थानीय भजन मण्डलियों द्वारा संरक्षण संबंधी गीतों का गायन, स्थानीय कलाकारों द्वारा गाँव के भवनों की दीवारों पर वन्य-प्राणियों का चित्रण और वन्य-प्राणी पर केन्द्रित नाटिका का मंचन आदि कार्यक्रम भी होंगे।
वन अधिकारी और सेवानिवृत्त अधिकारी अपने क्षेत्र के विद्यालयों में वन्य-प्राणी संरक्षण पर व्याख्यान देंगे। अखिल भारतीय बाघ गणना में मास्टर-ट्रेनर रहे कर्मचारी भी स्कूलों में व्याख्यान के दौरान बाघ गणना के दौरान अपने अनुभव साझा करेंगे। जिला-स्तर पर वन्य-प्राणी केन्द्रित पोस्टर, फोटो, पेंटिंग आदि की प्रदर्शनी लगाई जायेगी। स्कूल-कॉलेज के विद्यार्थियों के लिये भाषण, पेंटिंग, रांगोली, प्रश्न-मंच, निबंध आदि प्रतियोगिताएँ होंगी और विद्यार्थियों को वन भ्रमण भी करवाया जायेगा।

तीन छात्रों का राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में चयन

स्कूल खेल कैलेंडर के अनुसार गुरुवार और शुक्रवार को विभागीय राज्य स्तर फुटबाल प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें पूर्व क्षेत्र शहडोल संभाग से बालक-बालिकाए प्रशिक्षक सहित 34 खिलाडयि़ों का दल भाग लिया । इनमें से 3 फुटबाल खिलाडयि़ों का चयन 4 से 8 सितम्बर तक रतलाम में आयोजित शालेय राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए किया गया है । तीनों खिलाड़ी अनूपपुर जिले के शाउमावि अमलाई में अध्ययनरत है। जिनमें राहुल निशाद, चंदन कुर्मी,रितेश दास के नाम शामिल ह। इस प्रतियोगिता में पूर्व क्षेत्र की टीम उप विजेता रही। ये सभी खिलाड़ी सुधारानी राव , खेल प्रशिक्षिका शाउमा्वि अमलाई के मार्गदर्शन में सम्मिलित हुए थे। खिलाडयि़ों के उत्कृष्ट प्रदर्शन एवं चयन पर बीकेमिश्रा जिला क्रीडा अधिकारी अनूपपुर, आरबी प्रसाद प्राचार्य शाउमावि अमलाई मो खलील कुरैशी, कराते प्रशिक्षक किशोर कुमार साकेत व अमलाई नगरवासियों ने हर्षव्यक्त करते हुए खिलाडयि़ों को बधाई दिया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned