आग से जली महिला का प्राइवेट में नहीं करा सके इलाज

पैसा खत्म होने पर जिला अस्पताल में कराया भर्ती

By: shubham singh

Updated: 22 Jun 2020, 09:19 PM IST

शहडोल। अनूपपुर जिले के कोतमा थाना अंतर्गत उरतान निवासी एक आग से जली महिला को परिजनों ने इलाज के लिए एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया था लेकिन इलाज के दौरान काफी पैसे लग गए और परिजनों के पास जब पैसे खत्म हो गए तो उसे जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराना पड़ा। महिला रंजना पति बबलू ढीमर 21 वर्ष ने घरेलू झगड़े में 11 जून को आग लगा लिया। इस पर परिजन उसे इलाज के लिए कोतमा अस्पताल गए तो उसे अनूपपुर जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। वहां से डॉक्टरों ने उसकी हालत देखकर जिला अस्पताल शहडोल के लिए रेफर कर दिया। परिजन उसे जिला अस्पताल रात में लेकर पहुंचे लेकिन यहां से उसे 2 बजे रात को एक प्राइवेट अस्पताल में इलाज के लिए ले जाकर भर्ती कराए।


70 हजार रुपए हो गए खर्च
इस दौरान महिला का 21 जून तक प्राइवेट अस्पताल में इलाज चलता रहा। इस पर परिजनों का लगभग 70 हजार रुपए खर्च हो गया। इसके बाद जब परिजनों के पास पैसा खत्म हो गया तो परिजन 21 जून को शाम 6 बजे उसे फिर जिला अस्पताल में लेकर इलाज के लिए पहुंचे और उसे बर्न वार्ड में भर्ती कराया। इस दौरान महिला का रात में ड्रेसिंग नहीं कराया गया। डॉक्टर आए और रात में दो बॉटल चढ़ाए। इसके बाद 22 जून को दोपहर करीब 12 बजे महिला का ड्रेसिंग कराया गया। अभी भी महिला की हालत ठीक नहीं है।

Show More
shubham singh Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned