200 बीघा गन्ने की फसल में आग, किसानों के अरमान जलकर हुए खाक

भारतीय किसान यूनियन ने मुआवजे की मांग की है, अगर मुआवजा नहीं मिलता है तो प्रदर्शन किया जाएगा।

By: अमित शर्मा

Published: 10 Feb 2018, 04:28 PM IST

शाहजहांपुर। किसानों पर पहले बेमौसम हुई बरसात की मार से बर्बाद हुई गन्ने की फसल के बाद अब आग गन्ना किसानों के ऊपर मुसीबत बन कर टूट पड़ी। यहां बिजली के तारों से निकली चिंगारी से लगी आग ने बड़ी तादात में करीब एक दर्जन किसानों की गन्ने की फसल को अपनी चपेट में ले लिया। आग लगने से यहां 200 बीघा से ज्यादा गन्ने की फसल जलकर खाक हो गई। आग इतनी भीषण थी कि खेतों में काम कर रहे किसानों को भाग कर अपनी जान बचानी पड़ी।


मुआवजे की मांग
मामला थाना बंडा के नटीयूरा इलाके की है जहां गन्ना के खेतों में अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग ने एक दर्जन से ज्यादा गन्ना किसानों की 200 बीघा से ज्यादा गन्ने की फसल को अपनी चपेट में ले लिया। गन्ने की फसल में आग लगने से नटिउरा गांव के गुरुदेव सिंह का दो एकड़, जगदीश सिंह का तीन एकड़ ,जोगिंदर सिंह का दस बीघा, इंद्र सिंह का चार एकड़, बलबंत सिंह का एक एकड़, कमलेश कुमार का डेढ़ एकड़, रामरतन का दो एकड़, रामौतार का 15 बीघा और इसी तरह लगभग एक दर्जन किसानों का गन्ना जलकर खाक हो गया। आग इतनी भीषण थी कि खेतों में काम कर रहे किसानों में भगदड़ मच गई। जिसके बाद सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने आग को बुझाया, तब तक सब कुछ जलकर राख हो चुका था। फिलहाल गन्ना किसान के लिए एक मुसीबत बन कर टूटी है और किसान यूनियन गन्ना किसानों के लिए मुआवजा दिए जाने की मांग कर रही है।

पहले बेमौसम बरसात से हुआ नुकसान

आपको बता दें कि इस बार गन्ना किसान अपनी फसल को देखकर बेहद खुश था। समय समय पर हुई ठीकठाक बरसात से गन्ना किसान तरह तरह के सपने बन रहे थे लेकिन करीब चार महीना पहले बेमौसम हुई बरसात से गन्ने की फसल बर्बाद हो गई। इस बरसात से अच्छी लम्बाई पकड़ चुका गन्ना गिर जाने से बड़ी तादात में गन्ना बर्बाद हो गया। किसानो के मंसूबो पर पानी फिर गया। लेकिन अब आग लग जाने से किसान बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। आपको बता दे कि जले हुए गन्ने की फसल को प्रथम दृष्टया तो चीनी मिल मालिक लेने से इंकार कर देते हैं। मजबूर किसान चीनी मिल मालिकों के आगे हाथ पांव जोड़ कर अपनी फसल अगर बेचते भी हैं तो बेहद सस्ते दामों पर ख़रीदी जाती है।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned