हनुमान की प्रतिमा हटाने के विरोध में ग्राणीण, जेसीबी चालकों ने भी खड़े किए हाथ

हनुमान की प्रतिमा हटाने के विरोध में ग्राणीण, जेसीबी चालकों ने भी खड़े किए हाथ

Mukesh Kumar | Publish: Jan, 13 2018 06:38:58 PM (IST) Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India

नेशनल हाईवे-24 के चौड़ीकरण में फंस रही हनुमान की प्रतिमा को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है।

शाहजहांपुर। जिले में नेशनल हाईवे-24 के चौड़ीकरण में फंस रही हनुमान की प्रतिमा को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि प्रतिमा को दूसरी जगह शिफ्ट किया जाए या इसे डिवाइडर में छोड़कर हाईवे का चौड़ीकरण कराया जाए। लेकिन निर्माण एजेंसी प्रतिमा का खंडित कर हाटने पर तुली है। जिसका वे लोग कड़ा विरोध करते हैं। लोगों की माने तो कोई भी चालक विशाल हनुमान प्रतिमा पर बुलडोजर चलाने को तैयार ही नहीं होता है। जिला प्रशासन ने जैसे तैसे दो जेसीबी चालकों को मशीन लेकर प्रतिमा हटाने भेजा तो मशीनें ही खराब हो गयी।

हाईवे के बीच में आ रही प्रतिमा
ये विशालकाय हनुमान की प्रतिमा तिलहर तहसील क्षेत्र में नेशनल हाईवे-24 के किनारे स्थापित है। पिछले लगभग छह वर्षों से बरेली से सीतापुर जिले तक हाइवे के फोर लेन होने का कार्य चल रहा है। हनुमान प्रतिमा और मंदिर हाईवे के किनारे था। चौड़ीकरण के चलते अब हाईवे के बीच में आ जाने से निर्माण कार्य प्रभावित हो रहा है। निर्माण एजेंसी के अनुरोध पर जिला प्रशासन इस मंदिर और प्रतिमा को हटाने की कोशिश करता है तो इलाके के लोग विरोध करने सामने आ जाते हैं। स्थानीय लोगों ने शनिवार को एनएचआई के प्रोजेक्ट मैनेजर का पुतला फूंककर अपना विरोध जताया।

सवा सौ साल पुराना मंदिर
प्रदर्शनकारी नवनीत ने बताया कि हाईवे स्थित यह मंदिर सवा सौ साल पुरा है। इससे क्षेत्र के लोगों की आस्था जुड़ी है। हाईवे चौड़ीकरण करने वाली निर्माण एजेंसी ने कहा था कि हनुमान प्रतिमा को दूसरी जगह शिफ्ट किया जाएगा, लेकिन जब भी प्रतिमा को हटाने के लिए जेसीबी आई तो मशीनें खराब हो गई। अब निर्माण एजेंसी हनुमान प्रतिमा को खंडित कर हटाने चाहती है, जिसका वे लोग विरोध कर रहे हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि हनुमान प्रतिमा को हाईवे के बीच में लिया जाए या फिर दूसरी जगह शिफ्ट किया जाए। खंडित नहीं होने देंगे।

जल्द सुलझाएंगे विवाद
इस संबंध तिलहर के उपजिलाधिकारी सत्यप्रिय सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार से हाईवे के चौड़ीकरण को लेकर जिलाधिकारी को शक्तियां प्राप्त हैं। हाईवे निर्माण में जो लोग बाधक बने हुए हैं, उनको चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी जल्दी ही अपने स्तर से इस विवाद को सुलझाएंगे।

Ad Block is Banned