डॉक्टर बना हैवान, नर्सिंगहोम में काम करने वाली महिला की बेटी से किया दुष्कर्म

डॉक्टर बना हैवान, नर्सिंगहोम में काम करने वाली महिला की बेटी से किया दुष्कर्म

Amit Sharma | Publish: Nov, 10 2018 07:55:54 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 07:55:55 PM (IST) Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India

हैवान बने डॉक्टर ने अपने ही नर्सिंग होम की महिला कर्मचारी की नाबालिग बेटी को बंधक बनाकर दो दिन तक अपने ही नर्सिंग होम में दुष्कर्म किया।

शाजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में डॉक्टर की हैवानियत का सनसनीखेज मामला सामने आया है।जहां हैवान बने डॉक्टर ने अपने ही नर्सिंग होम की महिला कर्मचारी की नाबालिग बेटी को बंधक बनाकर दो दिन तक अपने ही नर्सिंग होम में दुष्कर्म के घृणित अपराध को अंजाम किया। रेप का विरोध करने पर किशोरी को जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह डॉक्टर के चंगुल से छूटी किशोरी परिजनों के साथ थाने पहुंची जहां ऊंचे रसूख के चलते पुलिस ने डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने की बजाय पीड़िता को ही थाने से भगा दिया। फ़िलहाल पीड़िता ने हैवान डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अधिकारियों से गुहार लगाई है। फ़िलहाल गम्भीर मामले में पुलिस कुछ भी बोलने से इंकार कर रही है।

जान से मारने की दी धमकी
दरअसल घटना थाना अल्लागंज क्षेत्र की है। जहां क्षेत्र की रहने वाली महिला ने बताया कि गांव मऊशाहजहांपुर के रहने वाले डॉक्टर विनोद सिंह का फर्रुखाबाद के घटियाघाट के पास दामिनी नाम से नर्सिंग होम है, जहां पर वह काम करती है। महिला का आरोप है कि वह दो दिन पहले जब रिस्तेदारी में गई थी तभी विनोद डॉक्टर उसके घर आये और क्लीनिक में इमरजेंसी काम का बहाना बनाकर उसकी नाबालिग बेटी को बुला ले गए जहां क्लीनिक के ऊपर बने कमरे में किशोरी को जान से मारने की धमकी देते हुये बंधक बना लिया और दो दिनों तक उसके साथ बलात्कार किया। इस दौरान जब किशोरी ने डॉक्टर का विरोध किया तो डॉक्टर ने किशोरी को जान से मारने की धमकी दी। दो दिनों बाद किसी तरह हैवान डॉक्टर के चंगुल से छूटी युवती घर पहुंची और हैवान डॉक्टर की करतूत बताई।

पुलिस पर गंभीर आरोप

वहीं जब परिजन अपनी पीड़ित नाबालिग बेटी को थाने लेकर पहुंचे तब पुलिस ने ऊंची पहुंच रखने वाले डॉक्टर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के बजाय उसको थाने से भगा दिया। फ़िलहाल पीड़ित परिवार बेटी को न्याय दिलाने के लिये अधिकारियों के चक्कर काट रहा है।

Ad Block is Banned