योगी के मंत्री ने वोट डालते ही विजय का प्रतीक चिह्न बनाया, आखिर क्यों

योगी के मंत्री ने वोट डालते ही विजय का प्रतीक चिह्न बनाया, आखिर क्यों

Amit Sharma | Updated: 26 Nov 2017, 09:08:19 AM (IST) Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India

मंत्री सुरेश खन्ना के चेहरे पर मुस्कान देखते ही बन रही थी। लोग कह रहे थे कि वोट डालते ही मंत्री को कैसे आभास हो गया कि भाजपा चुनाव जीतेगी।

शाहजहाँपुर। उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव के अंतर्गत दूसरे चरण में शाहजहांपुर में ठीक प्रताः 7.30 बजे से मतदान शुरू हो गया। मतदान करने के लिए लोग बड़ी संख्या में निकले हैं। पंक्तिबद्ध होकर मतदान कर रहे हैं। मतदान केन्द्रों पर कड़ी सुरक्षा की जा रही है। उत्तर प्रदेश के नगर विकास मन्त्री सुरेश खन्ना ने मतपेटी में वोट डालने के बाद विजय का प्रतीक चिह्न वी बनाया है। उनके चेहरे पर मुस्कान देखते ही बन रही थी। यह देखकर लोग कह रहे थे कि वोट डालते ही मंत्री को कैसे आभास हो गया कि भाजपा चुनाव जीतेगी। शाहजहाँपुर नगर पालिका से भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी नीलिमा प्रसाद और उनके पति कुँवर जयेश प्रसाद ने भी मतदान किया।

Suresh khanna

शाहजहाँपुर में सभी 10 निकायों में 527 पोलिंग स्टेशनों पर चुनाव को शान्ति पूर्ण ढंग से निपटाने के लिए पूरे जनपद को 21 जोन और 59 सेक्टर में बांटा गया है। यहां चार नगर पालिकाओं और 6 टाउन एरिया के लिए चुनाव होना है। चुनाव में सुरक्षा के लिए भी व्यापक सुरक्षा व्यवस्था की गई है। यहां पुलिस के साथ पीएसी और आरएएफ की तैनाती की गई जो संवेदनशील और अतिसंवेदनशील बूथों पर कड़ी निगरानी की जा रही है। जिला प्रशासन का कहना है कि हर हाल में शान्तिपूर्ण ढंग से मतदान कराया जा रहा है। कहीं से कोई शिकायत नहीं आ रही है।

Nilima Prasad

जिलाधिकारी नरेन्द्र कुमार सिंह ने जिले में 25 नवम्बर की रात्रि में किसी भी बाहरी वव्यक्ति के आने या रुकने पर रोक लगा दी थी। जिलाधिकारी ने चेतावनी दी थी कि अगर कोई बाहरी व्यक्ति जिले में रुका हो तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। शाहजहाँपुर के सभी 10 निकाय के करीब 50 बूथ अतिसंवेदनशील है। जिलाधिकारी नरेन्द्र सिंह ने पिछले तीन दिन लगातार अति संवेदनशील वूथके इलाकों में पुलिस, पीएसी और आरएएफ का फ्लैग मार्च कराया। पुलिस अधीक्षक केबी सिंह का कहना है कि चुनाव में गड़बड़ी करने वालों या फिर फर्जी मतदान करने वालों से सख्ती के साथ निपटा जाएगा। उन्होंने अफवाह फैलाने वालों को भी सख्त चेतावनी दी है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned