उत्साह की डोर से लड़ी आसमां में पतंगबाजी की जंग

मकर संक्रांति पर रविवार को पतंगबाजी का वो नजारा दिखाई दिया जो हर किसी को याद रहेगा।

By: Gopal Bajpai

Published: 15 Jan 2018, 07:30 AM IST

शाजापुर. मकर संक्रांति पर रविवार को पतंगबाजी का वो नजारा दिखाई दिया जो हर किसी को याद रहेगा। सुबह से ही उत्साह की डोर लिए लोगों ने खुशियों की पतंग से आकाश का अंतिम छोर नाप लिया। दिन भर चली आकाशीय जंग के दौरान सारा वातावरण काटा है...के नाद से गूंज उठा। वहीं इन सब के बीच दिनभर दानपुण्य का दौर भी चलता रहा। हालांकि कुछ स्थानों पर सोमवार को भी मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा।
मकर संक्रांति पर माहौल लोगों की इच्छा के अनुरूप ही था। सुबह छत पर पहुंचते ही पिछले दो तीन दिनों से तैयारी कर रहे लोगों की तो जैसे बांछे खिल उठी। क्योंकि मकर संक्रांति का पर्व रविवार को छुट्टी वाले दिन होने से सभी ने इसका जमकर मजा उठाया। आदर्श वातावरण के बीच पतंगबाजी को लेकर जो उत्साह बच्चों में था वो ही युवाओं में दिखाई दिया। साथ ही दोपहर को युवतियां और महिलाएं भी घर से कामकाज निपटाकर छत पर जा पहुंची। शहर भर में छतों से डीजे की धुन के बीच काटा है की आवाज सुनाई दे रही थी। पतंगबाजी का दौर सुबह से शुरू हुआ तो देर शाम तक चलता रहा। शाम के समय कुछ स्थानों पर लोगों ने घर की छत पर ही आतिशबाजी भी की।

लोगों ने खूब किया दान-पुण्य
साथ ही लोगों ने आज के दिन तिल गुड़ का भी वितरण किया। इधर मकर संक्रांति के अवसर पर महिलाओं ने हल्दी कूंकूं किया। इस दौरान महिलाओं ने एक दूसरे को हल्दी कूंकूं लगाकर भेंट भी दी। इसका प्रमुख आयोजन शाम को महाराष्ट्रीयन समाज की महिलाओं ने किया। यहां महिलाओं ने एक-दूसरे को सुहाग की निशानियां भेंट की तो किसी ने रोजमर्रा के काम की वस्तुएं। मकर संक्रांति से शुरू हुआ यह हल्दी कूंकूं का सिलसिला तीन-चार दिनों तक चलेगा।

विहिप-बजरंग दल ने किया गोपूजन
विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल नगर ईकाई ने प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी मकर संक्रांति के पर्वपर गो-पूजन किया। कार्यक्रर्ताओं ने बस स्टैंड पर गायों की पूजा करके उन्हें तिल-गुड़ खिलाते हुए चारा भी खिलाया। कार्यक्रम में सभी कार्यकर्ताओं ने हिंदू समाजजनों ने अपील करते हुए कहा कि सभी हिंदू परिवार अपने घर में एक गाय जरूर पाले और उसकी सेवा करें। इस अवसर पर मुख्य रूप से विभाग संयोजक संतोष मेवाड़ा, जिलाध्यक्ष गोविंद सोनी, जिला उपाध्यक्ष कैलाश सेन, जिला सहमंत्री संतोष शर्मा, जिला सहसंयोजक राजेश जादम, नगर संयोजक सोमेश कुंभकार सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे। यह जानकारी नगर गो रक्षा प्रमुख दीपक केवट ने दी।

गिल्ली-डंडे का लुत्फ उठाया
मकर संक्रांति पर्व पर कुछ लोगों ने पतंगबाजी की जगह गिल्ली-डंडे का भी मजा लिया। स्टेडियम पर पहुंचे युवाओं ने जमकर गिल्ली-डंडे का लुत्फ उठाया।एक ओर युवाओं की टोली सुबह से डोर पतंग लेकर छत पर पहुंच गई थी तो दूसरी ओर गाय को घास खिलाने के लिए भी लोग चौराहों पर पहुुंच गए थे। शहर के आजाद चौक, सराफा बाजार सहित अन्य स्थानों पर गायों को चारा खिलाकर पुण्य कमाया।

पतंग से किया राधा-श्रीकृष्ण का शृंगार
मकर संक्रांति के अवसर पर शहर के वजीरपुरा स्थित राधा-कृष्ण मंदिर में भी भगवान का आकर्षक शृंगार किया गया। यहां पर पूरे मंदिर को पतंगों से आकर्षक रूप से सजाया गया। रंग-बिरंगी और तरह-तरह की पतंगों से सजे मंदिर में दर्शन करने के लिए भक्त भी पहुंचे।

Gopal Bajpai Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned