रहवासियों को मुंह चिड़ा रहीं नपा की पेयजल पाइपलाइनें

पार्षद सहित रहवासी बता रहे सालों से परेशानी, नपा नहीं सुनती उनकी फरियाद

By: Lalit Saxena

Published: 25 Apr 2018, 07:45 AM IST

शाजापुर. भीषण गर्मी में लोगों को पल-पल पानी की जरूरत लगती है। पानी न हो तो अनेकों कार्य प्रभावित हो जाते हैं, लेकिन शहर के कुछ हिस्से ऐसे हैं जहां नपा को पाइप लाइन डाले सालों हो गए, लेकिन अभी तक पानी नहीं पहुंचा। रहवासी हर बार आंदोलन करते हैं, पार्षद भी मामले में गंभीर हैं, लेकिन नपा की लापरवाही का खामियाजा शहर के वार्ड २१ और वार्ड २६ में बनी कॉलोनीवासियों को उठाना पड़ रहा है। वार्ड २६ में लोंदिया मार्ग पर ३ साल पहले पाइप लाइन डाली गई थी। वार्ड २१ में २ साल पहले भावसार धर्मशाला के पास से पाइप लाइन नपा द्वारा डाली गई थी। ताकि लोगों को जलप्रदाय किया जा सके, लेकिन दोनों ही स्थानों पर नपा लाइन डालकर भूल चुकी है। रहवासी सालों से नल कनेक्शन और पानी का इंतजार कर है, लेकिन अभी तक सुनवाई नहीं हुई है।

100 घरों को है कनेक्शन की आस
वार्ड २१ में करीब दो साल पहले भावसार धर्मशाला से लेकर बाबूलाल माली के मकान तक नपा ने पाइप लाइन डाली थी। तब से लेकर आज तक यहां नलों का कनेक्शन नहीं दिया न ही लाइन में पानी आया। रहवासी कई बार विरोध प्रदर्शन भी कर चुके हैं। लेकिन समस्या का हल नहीं हुआ। १०० से अधिक घरों में नलों के कनेक्शन नहीं जिससे लोगों पास के क्षेत्र या परिचितों के घर से ट्यूबवेल से पानी लाकर गुजारा करना पड़ रहा है। रहवासी धर्मेंद्र भावसार, दीपक भावसार, सुरेश माली ने बताया पाइप लाइन डालने के बाद आज तक लाइन में पानी नहीं आया न ही नपा ने कनेक्शन दिया। रहवासियों ने बताया पास के क्षेत्र से पानी लाकर गुजारा करना पड़ता है। सर्दी बारिश में तो लोग पानी दे देते हैं, लेकिन गर्मी में परेशानी बढ़ जाती है।

यहां कम प्रेशर बना परेशानी का कारण
वार्ड २१ में ही ठाकुर मोहल्ला और वेदजी की गली में कम प्रेशर कम होने की समस्या से लोग जूझ रहे हैं। करीब डेढ़ माह से लोगों को परेशानी हो रही है। इसकी शिकायत पार्षद विलेश व्यास और रहवासियों ने नगरपालिका से की है, लेकिन नपा ने अभी तक क्षेत्र लाइन को दुरुस्त नहीं कराया। पार्षद ने बताया लाइन दब गई है, लेकिन ठीक कराना आवश्यक है। एक माह से लगातार नगर पालिका को अवगत कराया जा रहा है, लेकिन अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे।

तीन साल पहले डाली थी पेयजल लाइन
शहर के वार्ड 26 में लोंदिया रोड के आसपास के रहवासी गर्मी के इन दिनों में पानी की बूंद-बूंद को तरस रहे हैं। तीन साल पहले रहवासियों के विरोध के चलते यहां पाइप लाइन डाली गई थी। जल्द कनेक्शन देने और पानी सप्लाई करने की बात नपा द्वारा की गई थी, लेकिन लाइन में आज तक जलप्रदाय नहीं किया गया। रहवासियों को पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है। कई बार जिम्मेदारों को पानी की समस्या बताई लेकिन महज आश्वासन ही दिया जा रहा है। रहवासी प्रेमलता मालवीय, भगवती बाई, गीताबाई ने बताया हमारी मांग पर वार्ड में पाइप लाइन तो डाल दी गई, लेकिन इस लाइन से आज तक किसी को कनेक्शन नहीं मिला है, और न ही इस लाइन में पानी सप्लाई किया गया है। स्थिति यह है कि सुबह से रहवासियों का पानी की व्यवस्था जुट जाते हैं। पानी के लिए लोग किसी ट्यूबवेल, किसी के बोरवेल तो आसपास के क्षेत्रों में लगे नलों पर निर्भर रहते हैं। वार्डवासियों का कहना है कि जब पाइप लाइन डाली गई है तो कनेक्शन भी किए जाना थे। इस पाइप लाइन का हम क्या करें, जिसमें पानी ही नहीं है।

जल्द शुरू होगी लाइन
वार्ड २६ में जो पाइप लाइन डली है, उसका कनेक्शन नई पानी की टंकी से होगा। जो जल्द ही शुरू होने वाली है। इसके बाद कनेक्शन भी दिए जाएंगे। वार्ड २१ की पाइप लाइन के मामले की मुझे जानकारी नहीं है। मामले को देखकर बताऊंगा।
भूपेंद्रकुमार दीक्षित, सीएमओ

वार्ड 21 में पाइप लाइन डालने के बाद कनेक्शन नहीं किए, लोगों के घर पानी नहीं पहुंच रहा है, इस मामले में नगर पालिका का लापरवाह है। रहवासी कई बार विरोध कर चुके हैं, मेरे घर भी मटके फोड़कर विरोध हुआ। मैं कई बार इस मामले को उठा चुका हूं, लेकिन नगरपालिका पानी पहुंचाने के मामले में लापरवाह बनी हुई है।
विलेश व्यास, पार्षद वार्ड-21

Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned