अनाज और फल-सब्जी मंडी के लगने वाल दौड़ होगी खत्म

7.5 करोड़ से तैयार हो रही आधुनिक फल-सब्जी मंडी, किसान एक ही परिसर में बेच सकेंगे अपनी संपूर्ण उपज, पार्किंग और सुरक्षा के होंगे विशेष इंतजाम

By: Lalit Saxena

Published: 23 Jul 2018, 07:30 AM IST

शाजापुर. शहर के टंकी चौराहा पर थोक फल-सब्जी मंडी का संचालन होता है। वहीं इससे करीब 5 किमी की दूरी पर कृषि उपज मंडी में अनाज विक्रय करने किसान पहुंचते हैं। इस कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है, लेकिन अब अनाज और फल-सब्जी मंडी के बीच की करीब 5 किमी की इस दूरी को खत्म किया जा रहा है। यहां साढ़े 7 करोड़ रुपए की लागत से कृषि उपज मंडी में ही आधुनिक फल-सब्जी मंडी का निर्माण किया जा रहा है। इस मंडी के निर्माण के बाद किसान एक ही परिसर में संपूर्ण उपज का विक्रय कर सकेंगे। इसके निर्माण से जाम की समस्या से मुक्ति मिलेगी तो वहीं भंडारण, परिवहन, पार्किंग आदि के लिए भी सुविधा रहेगी। निर्माण के बाद किसानों को अनाज व फल-सब्जी बेचने अलग-अलग जगह पर नहीं जाना पड़ेगा।
शहर में टंकी चौराहा पर थोक फल सब्जी मंडी लगती है। यहां पर आलू, प्याज व लहसुन फसल की खरीदी होती है। भावांतर भुगतान योजना अंतर्गत प्याज की खरीदी के कारण यहां पर बंपर आवक होने की स्थिति में बेरछा रोड व हाइवे तक जाम की स्थिति बनती रही। ज्यादा वाहनों के आ जाने से मंडी परिसर छोटा पड़ जाता था। इसके अतिरिक्त सीजन के समय भी ज्यादा मात्रा में उपज आने पर पार्किंग, भंडारण आदि को लेकर भी दिक्कत आती हैं। इससे फल व सब्जी विक्रय के लिए आने वाले किसानों के साथ-साथ संबंधित व्यापारियों को भी परेशानी से दो-चार होना पड़ता है। हाट मैदान में क्षेत्र के किसानों के लाई जाने वाली सब्जियों की खरीदारी की जाती है, लेकिन अब हाइवे स्थित अनाज मंडी पर बड़े परिसर में सर्वसुविधा युक्त थोक फल-सब्जी मंडी बन जाने से क्षेत्र के किसानों को काफी लाभ होगा।
10 बीघा क्षेत्र का रहेगा परिसर
अनाज मंडी के पिछले हिस्से में आधुनिक थोक फल सब्जी मंडी के निर्माण का काम शुरू हो चुका है। वर्तमान में भवन के लिए बेस का निर्माण कार्य चल रहा है। यहां बीम खड़े किए जा रहे हैं। निर्माण व परिसर करीब 10 बीघा क्षेत्र में रहेगा। इसके चलते यहां बड़ी संख्या में किसान एक साथ आकर अपनी फल व सब्जी बगैर किसी परेशानी के विक्रय कर सकेंगे। यहां किसानों की सुविधाओं के लिए भी व्यवस्थाएं रहेंगी।
किसानों को मिलेगी वाइफाइ की सुविधा
थोक फल-सब्जी मंडी में प्रवेश द्वार बमोरी मार्ग के समीप से होकर रहेगा। यहां ज्यादा ट्रैफिक भी नहीं रहता है। इसके चलते उपज लाने वाले किसानों को किसी तरह की दिक्कत भी नहीं होगी। वहीं परिसर में पार्किंग की बेहतर व्यवस्था रहेगी। सुरक्षा के लिए बाउंड्रीवॉल व गेट रहेगा। सुरक्षा के लिहाज से ही यहां पर सीसीटीवी कैमरों के साथ सुरक्षा गार्ड आदि की भी व्यवस्था रहेगी। यहां पक्का परिसर तो आधुनिक मल्टीयुटिलिटी शेड भी रहेगा। वहीं परिसर में इंरटनेट की भी व्यवस्था रहेगी। परिसर को वाइफाइ करने के लिए कवायद की जाएगी। इंटरनेट कनेक्टिीविटी होने से फल व सब्जियों के दाम ऑनलाइन भी किसानों व व्यापारियों को पता चल सकेंगे।
आधुनिक मंडी से किसानों को होगा लाभ
अनाज मंडी के ही परिसर में बन रही थोक फल सब्जी मंडी के निर्माण से किसानों को काफी राहत होगी, क्योंकि शाजापुर में अपनी फसल विक्रय करने आने वाले किसान अनाज विक्रय करने के साथ ही एक ही परिसर में फल व सब्जी भी बेच सकेंगे। इससे किसानों को अनाज व फल सब्जी के लिए दो अलग-अलग स्थानों पर नहीं जाना पड़ेगा।
&करीब साढ़े 7 करोड़ रुपए की लागत से फल-सब्जी मंडी का निर्माण मंडी बोर्ड की ओर से कराया जा रहा है। इसके टेंडर में निर्माण की समय-सीमा वर्षा काल को छोड़कर (3 माह छोड़कर) 9 माह तय की हुई है। संभवतया अगले वर्ष से इसका लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।
डीसी राजपूत, सचिव, कृषि उपज मंडी-शाजापुर

Lalit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned