हाथों में तख्तियां, जुबां पर आक्रोश भरे नारे...माता के दरबार से भरी हुंकार

हाथों में तख्तियां, जुबां पर आक्रोश भरे नारे...माता के दरबार से भरी हुंकार

Lalit Saxena | Publish: Mar, 14 2018 07:58:30 PM (IST) Shajapur, Madhya Pradesh, India

माता के दरबार से रैली निकालकर महिलाओं ने लगाई गुहार...कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

शाजापुर। आशा, उषा और सहयोगिनी ने सात दिवसीय हड़ताल के अंतिम दिन बुधवार को मां राजराजेश्वरी मंदिर से लेकर कलेक्टोरेट तक रैली निकाली। इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नाम कार्यकर्ताओं ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि अगर मांगें नहीं मानी जाती हैं तो आगामी दिनों भूख हड़ताल व शासकीय कार्य और मतदान का बहिष्कार किया जाएगा। इस दौरान जिला अध्यक्ष रेखा मालवीय, ममता वशिष्ठ, भारती जाटव, कांता शुक्ला, दुर्गेश धाकड़, भारती गौतम, दुर्गा भिलाला, कांता मालवीय आदि उषा-आशा व सहयोगिनी उपस्थित रहीं।

आगर-मालवा. मप्र संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी/अधिकारी संघ के आह्वान पर मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे स्वास्थ्य कर्मचारियों को शासन ने मंगलवार को निष्कासित कर दिया गया। कर्मचारियों ने निष्कासन करने की बात को दरकिनार करते हुए हड़ताल २३वें दिन भी जारी रखी।

जिलाध्यक्ष पंकज ढाबी ने बताया कि संविदा कर्मचारियों पर शासन की धमकी का कोई असर नहीं होगा। यह हमारे सम्मान की लड़ाई है। जिस प्रकार से शासन ने 15 वर्षों से हमारा शोषण किया है वो हमारे लिए असहनीय है। नियमितिकरण की स्थिति में ही हड़ताल समाप्त होगी अन्यथा आंदोनल जारी रहेगा। इस अवसर पर बड़ी संख्या में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी उपस्थित थे।

देंगे जन आंदोलन का रूप
जिलाध्यक्ष ने बताया कि शासन द्वारा संविदा कर्मचारीयों को निष्कासित कर मुक्त कर दिया गया है। अब हम आने वाले समय मे मप्र सरकार के विरोध मे जनता के बीच पहुंचकर विरोध को जन आंदोलन का रूप देंगे। आगामी समय मे संविदा कर्मचारी अपने परिवार के साथ शासन का विरोध करेंगे। यदि मुख्यमंत्री यथाशीघ्र मांगों का निराकरण करते है तो सड़क पर उतरकर शासन के विरोध मे प्रदर्शन किया जाएगा।

आशा कार्यकर्ताओं की हड़ताल भी जारी
७ दिवसीय हड़ताल पर गई आशा, उषा और आशा सहयोगिनी की हड़ताल मंगलवार को भी जारी रही। अपनी लंबित मांगो के निराकरण को लेकर हड़ताल कर रही आशा कार्यकर्ताओं ने गांधी उपवन में नारेबाजी कर विरोध जताया। कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगे का शिघ्र निराकरण किए जाने की बात कही। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष रेखा अजमेरा, तहसील अध्यक्ष गिरजेश यादव, सिद्धीका कामरिया, कल्पना राठौर, पूजा शर्मा, आशा मालवीय, गंगा शिंदल, रेखा सूर्यवंशी, कविता मालवीय, आदि उपस्थित थी।

मेहंदी से लिखे नारे
अनिश्चितकालीन हड़ताल कर रहे न्यू बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल मंगलवार को भी जारी रही। धरना स्थल गांधी उपवन में कर्मचारियों ने अपने हाथों में मेहंदी से नारे लिखे और शासन के विरुद्ध नारेबाजी की। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष मोना सर्वेकर, रेखा गुजराती, अभूषण पाल आदि कर्मचारी उपस्थित थे।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned