शाजापुर में इस बीमारी से अस्पताल में लग गई कतारें

शाजापुर में इस बीमारी से अस्पताल में लग गई कतारें

Lalit Saxena | Publish: Sep, 03 2018 07:30:00 AM (IST) Shajapur, Madhya Pradesh, India

टाइफाइड और वायरल की गिरफ्त में शहरवासी, अस्पताल में 10 दिन में ही पहुंचे करीब 5 हजार बीमार, निजी चिकित्सालयों में भी पहुंच रही मरीजों की खासी भीड़

शाजापुर. इन दिन शहर में टाइफाइड और वायरल का जोर चल रहा है। शहर में सैकड़ों लोग इसकी चपेट में है। इन बीमारियों से ग्रसित बच्चों की संख्या भी दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। अकेले सरकारी अस्पताल पर नजर डाली जाए तो यहां पर महज 10 दिन में ही करीब 5 हजार लोग उपचार के लिए पहुंच चुके है। इसमें से अधिकांश मरीज टाइफाइड और वायरल फीवर की चपेट में है। डॉक्टर मरीजों को उचित खानपान की सलाह दे रहे हैं।

सिरदर्द, सर्दी, घबराहट, बेचैनी, हाथ-पैर दर्द, हथेलियों और पैर के पंजों का गर्म रहना, शरीर कहीं से गर्म तो कहीं से ठंडा रहना ऐसे ही लक्षण यदि आपको किसी में भी नजर आ रहे हैं तो उसे तत्काल डॉक्टर को दिखवाकर उचित उपचार कराएं। उक्त लक्षण टाइफाइड के हैं। इन दिनों शहर में टाइफाइड के मरीजों की संख्या बढ़ गई है। बच्चों से लेकर वरिष्ठ नागरिक तक इसकी चपेट में आ रहे है। डॉक्टरों का कहना हैकि उचित खान-पान का ध्यान रखकर इस बीमारी को रोका जा सकता है। हालांकि एक बार टाइफाइड होने पर करीब 10 दिन से ज्यादा समय इसके उपचार में लग जाता है। इस दौरान मरीज को कमजोरी भी महसूस होने लगती है।
वहीं दूसरी ओर टाइफाइड के साथ ही वायरल फीवर की चपेट में भी सैकड़ों लोग आ चुके है। तेज बुखार के कारण लोगों की हालत खराब हो रही है। बदलते मौसम के कारण इन बीमारियों ने जोर पकड़ लिया है।
गंदा पानी है सबसे मुख्य कारण
टाइफाइड और वायरल का मुख्य कारण गंदे पानी का सेवन है। डॉक्टर्स की मानें तो पानी में जो गंदगी मिलकर आती है उससे टाइफाइड होने की आशंका कई गुना ज्यादा बढ़ जाती है। वर्तमान में जो केस सामने आ रहे हैं उसमें से हर दूसरे मरीज को टाइफाइड ने जकड़ा हुआ है। रक्त जांच में स्थिति स्पष्ट हो जाती है। टाइफाइड के अतिरिक्त वायरल के मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है।
सावधानी रख बच सकते हैं बीमारी से
मौसमी बीमारियों से बचने के लिए डॉक्टर साफ और उबले हुए पानी को पीने की सलाह दे रहे है। डॉक्टर के अनुसार हर कहीं पर पानी का सेवन नहीं करें। सिर्फ उबला हुआ स्वच्छ पानी ही पीएं। इसके साथ ही खुले में रखी खाद्य सामग्री और तले-गले, तेज मिर्च-मसाले वाले भोजन को भी न करें। साबुन से हाथ धोकर ही खाना खाए या पानी पीएं। इन छोटी-छोटी सावधानियों को रखकर बीमारियों से बचा जा सकता है।


इस तरह अस्पताल पहुंच रहे बीमार
दिनांक पुरुष महिला बालक बालिका कुल
22 अगस्त 65 57 21 10 153
23 अगस्त 190 183 42 42 457
24 अगस्त 227 197 73 55 552
25 अगस्त 198 167 59 43 467
26 अगस्त 56 43 24 13 136
27अगस्त 219 219 81 47 563
28 अगस्त241 26671 58 644
29 अगस्त 199 241 59 45 552
30 अगस्त 221 225 59 52 557
31 अगस्त 186 257 69 50 562
कुल 1810 1860 558 415 4643
(स्रोत : जिला अस्पताल-शाजापुर)


जलजनित बीमारियों ने इन दिनों जोर पकड़ा हुआ है। हर दूसरे मरीज को टायफाइड या वायरल की शिकायत सामने आ रही है। बच्चों ये बीमारी ज्यादा बढ़ रही है। साफ एवं स्वच्छ पानी का उपयोग करें, बाहरी सामग्री का सेवन नहीं करें और स्वच्छता रखें तो बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है।
डॉ. चेतन वर्मा, एसएनसीयू प्रभारी एवं शिशु रोग विशेषज्ञ, जिला अस्पताल-शाजापुर

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned