रेलवे ट्रेक पार करते समय हुआ दर्दनाक हादसा

प्रवचन सुनने जा रही वृद्धा और बालिका की भोपाल के अब्दुल्लागंज के समीप ट्रेन से कटकर मौत, शाजापुर जिले के अकोदिया के ग्राम फूलेन का निवासी परिवार पर हुआ वज्रपात

By: Piyush bhawsar

Published: 06 Jan 2020, 11:01 PM IST

शाजापुर.

जिले के अकोदिया के वार्ड क्रमांक-5 ग्राम फूलेन के मूलरूप से निवासी एक परिवार की 70 वर्षीय वृद्धा और 7 साल की मासूम की सोमवार सुबह भोपाल के अब्दुल्लागंज के समीप ट्रेन से कटने से मौत हो गई। हादसे की जानकारी जैसे ही ग्राम फूलेन में परिजनों को लगी तो सभी लोग तत्काल भोपाल रवाना हो गए। दोनों शव को पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजन ग्राम फूलेन लेकर पहुंचे। यहां पर देर रात को दोनों को अंतिम संस्कार किया गया।

अकोदिया नगर परिषद के वार्ड क्रमांक-5 ग्राम फूलेन के चौकीदार भागीरथ ने बताया कि उसके परिवार का महेंद्र (28) पिता बलवंतसिंह मालवीय पिछले करीब 7-8 साल से भोपाल में रहकर काम कर रहा था। महेंद्र भोपाल में अपनी पत्नी, दो बेटियों सहित अपनी दादी के साथ रह रहा था। भागीरथ ने बताया कि पूरा परिवार अब्दुल्लागंज में रेलवे पटरी से कुछ दूरी पर एक ओर रहता है। यहां स्थित घर से सोमवार को संपतबाई (70) पति नंदू और पवित्रा (7) पिता महेंद्र प्रवचन सुनने के लिए घर से निकली। सुबह करीब 11 बजे जब ये दोनों एक दूसरे का हाथ पकडक़र पटरी पार कर रहे थे तभी अचानक ये दोनों ट्रेन की चपेट में आ गए। जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। जिस समय ये हादसा हुआ उस समय पटरी के आसपास परिवार का कोई भी सदस्य मौजूद नहीं था। भागीरथ ने बताया कि वो सुबह शासकीय कार्य से अकोदिया थाने पर पहुंचा था। तभी यहां उसके पास घटना के संबंध में फोन आया। ऐसे में अकोदिया थाना प्रभारी पार्वति गौड़ ने भागीरथ की आर्थिक मदद करते हुए उसे तत्काल भोपाल जाने के लिए भेज दिया। भागीरथ ने बताया कि संपत बाई रिश्ते में उसकी काकी लगती थी। भोपाल में दोनों शवों को पोस्टमार्टम के बाद रात को ही ग्राम फूलेन लेकर आया गया। दोनों शवों की स्थिति ऐसी नहीं थी कि उन्हें रातभर रखा जाए। ऐसे में रात को ही दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

Show More
Piyush bhawsar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned