आवारा कुत्तों ने दर्जन भर बच्चों को बनाया अपना शिकार, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप- देखें वीडियाे

Highlights

कैराना में कुत्तों के आतंक से परेशान हुए लोग
कुत्ते आए दिन बच्चों को बना रहे अपना शिकार
स्वास्थ्य विभाग में भी मचाया हड़कंप

शामली। जिले के कैराना में आवारा कुत्तों का आतंक भयंकर तरीके से फैलता जा रहा है। इसकी वजह आवारा कुत्तों द्वारा एक ही जगह पर एक दर्जन से अधिक बच्चों को अपना शिकार बनाया जाना है। जिसके बाद सभी घायल बच्चे सीएचसी पहुंचे और उपचार कराया है। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग ने अस्पताल में कैंप लगाकर बच्चों को रेबीज के इंजेक्शन लगाए।

दरअसल पूरा मामला शामली के कैराना इलाके के गांव काकोर है। जहां पर इन दिनों आवारा कुत्तों ने आतंक मचा रखा है। जिसके चलते बच्चों का घर से निकलना बंद हो चुका है। यहां एक माह के अंदर अब तक आवारा कुत्तों ने एक दर्जन से अधिक बच्चों को अपना शिकार बना चुकें हैं। आतंक इस कदर है कि गांव की गलियों में कुत्तों का झुंड दहशत का कारण बना है। कुत्ते लोगों को काटकर जख्मी करते हैं। गांव में आवारा कुत्ते आपस में झगड़ते हुए लोगों को काट रहे है। गांव में कुत्ते काटने की घटना के बाद से कांधला और कैराना सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों ने कैंप लगाकर आवारा कुत्तों के हुए शिकार बच्चों को रेबीज के इंजेक्शन लगाए।

करोड़ों के घोटाले में पूर्व चीफ इंजीनियर यादव सिंह जेल से आया बाहर, 10 लाख के मुचलके पर मिली जमानत

कुत्ता काटने पर बचाव की दी जानकारी

साथ ही उन्हें आवारा कुत्ते के काटने पर समय रहते क्या करना चाहिए। यह सब बातें भी बताई है। हालांकि कैराना वासियों ने आवारा कुत्तों की शिकायत नगर पंचायत कैराना से भी की है, लेकिन शिकायत के बाद आवारा कुत्तों पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है।

Nitin Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned