पंचायतीराज मंत्री ने किया यूपी में पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान, जानिये कब होंगे

Highlights

- शामली पहुंचे पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र सिंह

- 15 मार्च से 15 अप्रैल के बीच होंगे पंचायत चुनाव

- आरक्षण की प्रक्रिया 24 जनवरी के बाद होगी शुरू

By: lokesh verma

Published: 13 Jan 2021, 12:58 PM IST

शामली. उत्तर प्रदेश सरकार के पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने प्रदेश में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर बताया कि चुनाव 15 मार्च से 15 अप्रैल के बीच होंगे। उन्होंने कहा कि 24 जनवरी के बाद पंचायतों के आरक्षण की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी, जो चक्रानुक्रम से की जाएगी। जिसे बाद में घोषित किया जाएगा। उक्त बातें मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने शामली में पूर्वी यमुना नहर के किनारे नवीन जिला मुख्यालय पर चार करोड़ सात लाख 96 हजार की लागत से बनने वाले जिला पंचायत कार्यालय भवन के शिलान्यास के मौके पर कही।

यह भी पढ़ें- जिला पंचायत अध्यक्षों का कार्यकाल आज रात 12 बजे से होगा खत्म, डीएम बनेंगे प्रशासक, मई तक होंगे चुनाव

पत्रकारवार्ता के दौरान मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि शामली समेत 25 जिलों में प्रदेश में भाजपा के सत्ता में आने के बाद जिला पंचायत के रिसोर्स सेंटर की स्थापना की गई है। पंचायत राज विभाग के 14वें और 15वें वित्त की राशि से यह निर्माण कार्य हुआ है। उन्होंने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रदेशभर में ढाई करोड़ शौचालयों को निर्माण हुआ है। उन्होंने आरोप लगया कि गैर भाजपा सरकारों ने बिजली के वितरण में भेदभाव किया था। राजधानी समेत कुछ महानगर को बिजली आपूर्ति देकर आम उपभोक्ताओं को वंचित किया जा रहा था। भाजपा ने समान रूप से बिजली आपूर्ति का रोस्टर जारी किया है।

इसके साथ ही सरकार ने श्मशानों की चारदीवारी के लिए 100 करोड़ का बजट जारी किया। वहीं, 80 हजार स्कूलों में शौचालयों के साथ ही पानी की आपूर्ति की व्यवस्था कराई गई। किसान आंदोलन के सवाल प मंत्री भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि कृषि कानून किसानों के हित में है, सरकार सोच-विचार करने के बाद कृषि कानून लेकर आई है। कृषि उत्पादों की कीमत में अंतर को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने यह कदम उठाया है। उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा कि देश के विकास में किसी को बाधा नही बनने दें और किसी बहकावे में भी नहीं आएं। इस दौरान कैराना से सांसद प्रदीप चौधरी के अलावा विधायक तेजेंद्र निर्वाल, विधायक उमेश मलिक, भाजपा नेत्री मृंगाका सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष संतोष देवी भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- अखिलेश यादव ने भाजपा को चेताया, सत्ता बदलाव के लिए एकजुट हो चुका है प्रदेश का युवा

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned