जिला पंचायत अध्यक्ष और प्रमुख पद पाने के लिए शुरू हुई जोड़तोड़ की रणनिति

जनपद में ब्लॉक प्रमुख के पांच पद हैं। विजयी प्रत्यिाशियों को अपने पाले में लाने में जुटी पार्टियां। बड़े राजनेता बैठकें कर तैयार कर रहे रणनीति।

By: Rahul Chauhan

Published: 07 May 2021, 01:26 PM IST

शामली। जिले के सियासी सूरमाओं ने जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के पदों पर कब्जा करने के लिए गोटें बिछानी शुरू कर दी हैं। विजयी प्रत्याशियों को अपने पाले में लाने के लिए अभी से हर फार्मूले का इस्तेमाल किया जा रहा है। इन पदों पर काबिज होने के लिए दुश्मन के दुश्मन दोस्त हो गए हैं। कई बड़े राजनेता लगातार बैठकें भी कर रहे हैं और अपनी रणनीति तय कर रहे हैं। आखिर कौन सदस्य कैसे मानेगा और कैसे समर्थन देगा, इस पर चिंतन व मनन इन खेमों में शु्रू हो गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी कांग्रेस अध्यक्ष ने बीजेपी सरकार को चेताया, कहा- अभी भी वक्त है मान लो राहुल गांधी की सलाह

दरअसल, जिला पंचायत अध्यक्ष पद के साथ जिले में ब्लॉक प्रमुख के भी पांच पद हैं। इन पदों पर कब्जा करने के लिए जिले के कई नामचीन सियासी हस्तियां अभी से जुट गई हैं। कुछ नेताओं ने अपने परिजनों को बीडीसी सदस्य का चुनाव अपने परिजनों को केवल इसलिए लड़ाया था, ताकि वह ब्लॉक प्रमुख बन सकें। ऐसे में अब इनका अगला मकसद ब्लॉक प्रमुख पद हासिल करना है। इसके लिए अन्य बीडीसी सदस्यों से संपर्क साधा जा रहा है। उनकी इच्छाएं पूछी जा रही हैं और मोलभाव भी किया जा रहा है। कुछ बिचौलिये भी इसमें सक्रिय हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: त्रिस्तारीय पंचायत चुनाव घूंघट की जीत का जश्न मना रहीं मूंछें, महिला प्रधानों ने संभाली अपनी रसाेईयां

अध्यक्ष पद और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव तक इन्हें अन्य जगह ठहराने व पिकनिक पाइंट पर ले जाने की योजना अभी से बननी शुरू हो गई है। इनकी घेराबंदी शुरू कर दी गई है। हालांकि जिला पंचायत अध्यक्ष में अभी ज्यादा स्थिति स्पष्ट नहीं है, लेकिन ब्लॉक प्रमुख पद के लिए यह काम अब तेजी से हो रहा है। इसके लिए साम, दाम, दंड, भेद का इस्तेमाल किया जा रहा है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned