रेप के बाद अब इस बड़े मामले में फंस सकते हैं पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति

र्इडी ने सीबीआर्इ से मांगी रिपोर्ट, इन करीबियों के सामने आ रहे नाम

By: Nitin Sharma

Published: 19 Jan 2019, 03:33 PM IST

शामली।हमीरपुर अवैध खनन में आर्इएएस समेत कर्इ नेताआें के नाम सामने अाने के बाद प्रवर्तन निदेशालय र्इडी की टीम अब जल्द ही वेस्ट यूपी के शामली अवैध खनन मामले में भी परत खोल सकती है।शामली अवैध खनन मामले में भी प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट के तहत केस दर्ज करेगी।इतना ही नहीं र्इडी ने इस के से जुड़ी जानकारियां जुटा ली है।इसमें रेप केस में आरोपी बनाये गये पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के दो करीबी नामजद है।वहीं मीडिया रिपोर्टस की माने तो पूर्व मंत्री भी र्इडी के निशाने पर आ सकते है।

यह भी पढ़ें-Video: थानाध्यक्ष के हटने पर निकाली 'बारात', सड़क पर जमकर नाचे पुलिसकर्मी तो वायरल हुआ एेसा वीडियो

अवैध खनन मामले में की गर्इ थी कार्रवार्इ

सीबीआई ने 18 अगस्त 2017 को पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के करीबी विकास वर्मा और अमरेंद्र सिंह उर्फ पिंटू समेत नौ लोगों के खिलाफ दिल्ली में एफआईआर दर्ज की गर्इ थी।इसके बाद इनके ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की थी।शामली स्थित थाने में दर्ज हुर्इ इस एफआईआर में अमरेंद्र सिंह आैर विकास वर्मा के अलावा शामली के कर्इ लोग शामिल थे।सीबीआई ने हाईकोर्ट के आदेश के बाद शामली में हुए अवैध खनन के मामले में 23 फरवरी 2017 को पीई दर्ज की थी।वहीं अब ईडी ने सीबीआई से इस केस से जुड़ी जानकारियां मांगी है।

र्इडी ने सीबीआर्इ से मांगी शामली खनन से संबंधित जानकारी

वहीं मीडिया रिपोर्टस के अनुसार अब शामली खनन मामले में र्इडी जांच में जुट गर्इ। इसके साथ ही र्इडी ने सीबीआर्इ से अब तक जांच रिपोर्ट मांगी है।सीबीआर्इ द्वारा चार्जशीट को लेकर क्या कहा गया है। संबंधित अन्य जानकारियां ली जा रही है।जिसके बाद र्इडी गायत्री के करीबियों समेत नौ आरोपितों पर मनी लाॅड्रिंग के तहत शिकंजा कसेगी।

Show More
Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned