Ayodhya Verdict के बाद सुरेश राणा को मिली जेड प्‍लस सुरक्षा, संगीत सोम समेत इन विधायकों की भी सिक्‍योरिटी बढ़ी

Highlights

  • कैबिनेट मंत्री Suresh Rana की बढ़ाई गई सुरक्षा
  • केंद्र ने पहले वापस ले ली थी सुरेश राणा की सुरक्षा
  • BJP के फायरब्रांड विधायक Sangeet Som की भी सुरक्षा बढ़ी

नोएडा। अयाेध्‍या मामले (Ayodhya Verdict) में फैसले के बाद कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा (Suresh Rana) की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उनको अब जेड प्‍लस (Z+) श्रेणी की सुरक्षा मिल गई है। सुरेश राणा के साथ ही भाजपा (BJP) के फायरब्रांड विधायक संगीत सोम (Sangeet Som) की सुरक्षा बढ़ाई गई है।

यह भी पढ़ें: यमुना एक्सप्रेस-वे पर भाजपा विधायक की गाड़ी पलटी, विनोद कटियार समेत तीन घायल- देखें वीडियो

राज्‍य सरकार ने दी थी वाई श्रेणी की सुरक्षा

सुरेश राणा शामली (Shamli) के थानाभवन (Thanabhawan) से विधायक हैं। मुजफ्फरनगर (Muzaffarnagar) दंगों में उनका नाम आया था। कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा को पहले जेड कैटेगिरी की सिक्‍योरिटी मिली हुई थी। कुछ माह पहले केंद्र ने उनकी सुरक्षा वापस ले ली थी। इसके बाद राज्‍य सरकार की तरफ से मंत्री को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई थी। अगस्‍त 2014 में कैबिनेट मंत्री ने जेड प्लस सिक्‍योरिटी के लिए अर्जी दी थी। अब उनकी सुरक्षा बढ़ाने का फैसला लिया गया है। शामली स्थित उनके घर पर मंगलवार को सुरक्षाकर्मी पहुंच गए हैं। एसपी अजय कुमार का कहना है क‍ि शासन से लिखित पत्र आया है। इसके तहत सुरेश राणा को जेड प्‍लस सुरक्षा दी गई है। उनके घर पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

यह भी पढ़ें: Reality Check: मुनकाद अली के बसपा छोड़ने का मैसेज वायरल, प्रदेश अध्‍यक्ष ने बताई चौंकाने वाली सच्‍चाई

संगीत सोम की भी सुरक्षा हुई थी वापस

सुरेश राणा की तरह ही सरधना (Sardhana) से भाजपा विधायक संगीत सोम की छवि भी हिंदूवादी नेता की है। उनका भी नाम मुजफ्फरनगर दंगों में आया था। पहले संगीत सोम को जेड प्‍लस सुरक्षा मिली हुई थी। इसके बाद केंद्र ने उनकी भी सुरक्षा वापस ले ली थी। इस बीच संगीत सोम के आवास पर हमला भी हुआ था। इसकी अब भी जांच चल रही है। अब संगीत सोम की भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। संगीत सोम को अब जेड श्रेणी की सिक्‍योरिटी दी गई है।

इनकी भी बढ़ी सुरक्षा

सुरेश राणा के अलावा जुफर फारुकी, वसीम रिजवी, मंत्री नंद गोपाल नंदी, पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय व नरेश अग्रवाल को भी सुरक्षा देने का निर्णय लिया गया है। नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल नंदी को जेड कैटेगिरी की सुरक्षा दी गई है। जुफर फारुकी सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष हैं और अयोध्या मामले में पक्षकार रहे हैं। जुफर फारुकी, वसीम रिजवी, रामवीर उपाध्याय और नरेश अग्रवाल को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।

Show More
sharad asthana
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned