जानिए 17 साल की उम्र में क्यों ये किशोर बन गया अपने ही भाई का हत्यारा

Ankita Sharma

Updated: 08 Aug 2019, 02:32:33 PM (IST)

शी लीड्स

— कर्नाटक के तुमकुर में सामने आया मामला

 

अकसर घरों में बड़े बहन—भाइयों को माता—पिता यही समझाते हैं कि तुम बड़े हो, अपने छोटे भाई—बहनों का ध्यान रखो। कभी कभी घर के छोटे बच्चों को दुलार देने के चक्कर में हम बडे बच्चों को प्यार देना भूल जाते हैं। और कर्नाटक के तुमकुर में मां की यही बेरुखी एक बच्चे के लिए जानलेवा साबित हुई। यहां 17 साल के एक किशोर ने अपने ही दस साल के भाई की हत्या कर डाली। किशोर ने अपने भाई को सिर्फ इसलिए मारा क्योंकि उसे लगता था कि मां छोटे भाई को ज्यादा प्यार करती है। घटना के समय बच्चों की मां वॉक पर गई थी। मां के वॉक पर जाने के बाद किशोर ने दरवाजा बंद किया और छोटे भाई की गर्दन, पेट और छाति पर आठ से भी ज्यादा बार चाकू से वार किए। जिससे बच्चे की मौत हो गई। आरोपी बेटे ने दरवाजा अंदर से बंद करके अपने छोटे भाई के पेट, गर्दन और छाती पर 8 बार वार किए। महिला जब घर पहुंची तो बेटे ने गेट नहीं खोला, पडोसियों ने गेट तोड़ा तो बच्चे का शव फर्श पर पड़ा मिला। महिला के पति की पहले ही मौत हो चुकी है। उनकी पेंशन से ही महिला परिवार चलाती थी। रिश्तेदारों ने पुलिस को बताया कि बड़ा बेटा छोटे भाई को परेशान करता था, तो मां उसे डांटती थी, इसलिए वो अकसर गुस्सा रहता था। मां ने बताया कि बड़ा बेटा अपने बर्थ—डे पर दोस्तों को डीजे पार्टी देना चाहता था, लेकिन उसने इससे मना कर दिया। इससे भी वो नाराज था। आरोपी किशोर को किशोरगृह भेजा गया है। आरोपी का कहना है कि मां हमेशा भेदभाव करती थी। छोटे भाई को ज्यादा प्यार करती थी और उसे हमेशा नजरअंदाज करती थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned