एक दिन की कलेक्टर बन प्रफुल्लित हो गई 11 साल की दीया

बीते रोज कार्यक्रम में पांडोला की 6वीं की छात्रा ने सीएम से चर्चा में जताई थी कलेक्टर बनने की इच्छा
कलेक्टर और एसपी ने बैठाया अपनी कुर्सी पर

श्योपुर. नन्हीं आंखों से भविष्य में कलेक्टर बनने का सपना संजोऐ 11 साल की लाड़ली लक्ष्मी दीया शुक्रवार को जब यथार्थ में कलेक्टर की कुर्सी पर बैठी तो प्रफुल्लित हो गई। यही वजह है कि जब उससे पूछा गया कि कैसा लग रहा है, तो बोली अच्छा लग रहा है। इसके साथ ही एक दिन की कलेक्टर बनकर दीया के सपनों को एक दिशा मिल गई।
ये दीया है श्योपुर जिले के ग्राम पांडोला की, जिसने गुरुवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से वेबकास्ट के जरिए संवाद में कलेक्टर बनने की इच्छा जताई, तो शुक्रवार को जिला प्रशासन के अफसरों ने उसके इस सपने को उड़ान देने के प्रयास किए। लाड़ली लक्ष्मी योजना की हितग्राही दीया सुमन कक्षा 6वीं की छात्रा है, जिसे शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर लाया गया और कलेक्ट्रेट का भ्रमण कराया गया। इस दौरान कलेक्टर राकेश श्रीवास्तव ने दीया को अपनी कुर्सी पर बैठाया, तो बालमन प्रफुल्लित हो उठा। दीया ने कुर्सी पर बैठकर कुछ फाइलें भी पढ़ीं। इस दौरान कलेक्टर ने उससे पूछा कि कैसा लग रहा है तो दीया बोली सर अच्छा लग रहा है। कलेक्टर ने दीया से कहा कि कलेक्टर बनने के लिए आप मेहनत से पढ़ाई करना, निश्चित सफलता मिलेगी। इस दौरान दीया को चॉकलेट, डायरी-पेन, कलर पैंसिंल आदि उपहार दिए। साथ ही उसे कलेक्टर की कार्यपद्धति के बारे में भी बताया। दीया के साथ उसकी मां बिंतौष सुमन भी आई थी, जिन्होंने बताया कि मैं 8वीं कक्षा तक पढ़ी हूं और इसके पापा बृजेश सुमन किराना दुकान करते हैं। हम बेटी को खूब पढ़ाएंगे और उसके सपने को साकार करने का प्रयास करेंगे। इस दौरान जिपं सीइओ राजेश शुक्ल, एसडीएम रूपेश उपाध्याय व अन्य अफसर भी मौजूद रहे।


एसपी ने भी अपनी कुर्सी पर बैठाया

कलेक्टर कार्यालय के बाद अफसरों ने दीया को कलेक्ट्रेट का भ्रमण कराया। साथ ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय भी दिखाया। यहां भी पुलिस अधीक्षक संपत उपाध्याय ने भी बालिका दीया सुमन को अपनी कुर्सी पर बैठाया।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned