हॉटस्पॉट क्षेत्रों से लौटे 23 लोग, 17 के लिए सैंपल

- सैंपल लेकर सभी 17 को किया होम क्वॉरंटीन, 6 मजदूर आईटीआई कराहल में क्वॉरंटीन

By: Anoop Bhargava

Published: 16 May 2020, 08:11 PM IST

श्योपुर/कराहल
हॉटस्पॉट इंदौर, कोटा, पुणे और गुजरात से ई-पास के साथ लौटे छात्र-छात्राएं और मजदूर परिवार के करीब 23 लोगों को कराहल के आईटीआई छात्रावास में क्वॉरंटीन किया गया। इनमें से 17 लोगों के कराहल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों की टीम ने सैंपल लिए। इस दौरान एसडीएम विजय यादव, तहसीलदार शिवराज मीणा मौजूद थे। मजदूर पैदल चलकर और छात्र-छात्राएं अपने साधन से कराहल पहुंचे जहां इनको क्वॉरंटीन कर लिया गया। 6 मजदूरों को विशेष निगरानी में रखा गया है।

इंदौर, कोटा, गुजरात से ई-पास लेकर लौटे छात्र-छात्राएं व मजदूरों को सेसईपुरा थाने पर रोक लिया गया। एसडीएम विजय यादव के निर्देश के बाद सभी को कराहल आईटीआई में क्वॉरंटीन किया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कराहल के बीएमओ बृजेंद्र सिंह रावत, डॉ. धर्मेन्द्र जाटव, लैब टैक्नीशियन अजब सिंह , हेल्थ पीआरओ आरबी शाक्य ने आईटीआई छात्रावास पहुंचकर 17 छात्र-छात्राओं व मजदूरों के सैंपल लिए। सैंपल लेने के बाद सभी को 14 दिन के लिए क्वॉरंटीन किया गया है। एसडीएम विजय यादव ने बताया कि 17 छात्र-छात्राओं को होम क्वॉरंटीन किया गया है। उनके घर पर विशेष बोर्ड लगाकर लोगों से दूरी रखने की अपील की जाएगी।
इंदौर से चलकर पहुंचे श्योपुर, 170 किमी चले पैदल
दो युवक इंदौर से श्योपुर पहुंचे। इनमें से एक इंदौर में पढ़ाई करता था और दूसरा एक होटल में काम। युवकों ने बताया कि वह इंदौर चलकर श्योपुर पहुंचे हैं इस दौरान उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। श्योपुर पहुंचने के दौरान करीब 170 किलोमीटर तक पैदल चलना पड़ा। रास्ते में मदद मिल जाती तो गाड़ी से सफर कर लेते जहां मदद नहीं मिलती तो पैदल चल देते थे इस तरह श्योपुर पहुंच गए। मनीष बैरवा उम्र 18 वर्ष ग्राम चकबमुलिया और शिव कुमार बेरवा उम्र 20 वर्ष अस्पताल पहुंचे और अपनी स्क्रीनिंग कराई।

Anoop Bhargava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned