आपसी सुलह-समझौते से निराकृत हुए 261 प्रकरण

आपसी सुलह-समझौते से निराकृत हुए 261 प्रकरण
श्योपुर जिला न्यायालय और विजयपुर तहसील न्यायालय में नेशनल लोक अदालत आयोजित

By: jay singh gurjar

Published: 10 Mar 2019, 09:09 PM IST

श्योपुर,
राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशानुसार शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्योपुर के तत्वावधान में श्योपुर जिला न्यायालय और विजयपुर तहसील न्यायालय में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें आपसी सुलह-समझौते से प्री-लिटिगेशन सहित कुल 261 प्रकरणों का निराकरण हुआ, जिसमें लगभग 55 लाख रुपए की राशि भी वसूल हुई और मुआवजा दिलाया गया।

जिला न्यायाधीश आरबी गुप्ता के मार्गदर्शन में आयोजित लोक अदालत का शुभारंभ विशेष न्यायाधीश एमएस चंद्रावत ने किया। जिसके बाद विभिन्न खंडपीठों के माध्यम से प्री-लिटिगेशन और न्यायालयों का सुलह-समझौते से निराकरण हुआ। इसी के तहत प्रीलिटिगेशन के 150 मामले निपटाए और 7 लाख 36 हजार 598 रुपए की राशि वसूली हुई। इसमें बैंकों के 5 प्रकरणों में 182373, विद्युत विभाग के 45 प्रकरणों में 218390 और नपा के 63 प्रकरणों का निराकरण कर 283855 रुपए की वसूल हुई। इसके साथ ही पुलिस परामर्श केंद्र का निराकृत हुआ।


वहीं दूसरी ओर न्यायिक अधिकारियों की खंडपीठों के माध्मय से 111 प्रकरणों का निराकरण हुआ। जिसमें मोटर दुर्घटना के 7 प्रकरणों में 21 लाख 5 हजार रुपए का मुआवजा दिलाया गया, वहीं चेक बाउंस के 24 मामलों में 2483174 रुपए वसूले गए। 28 आपराधिक प्रकरणों का निराकरण हुआ, जबकि विद्युत विभाग के 22 मामले निराकृत कर 2 लाख 39 हजार रुपए की राशि वसूली। लोक अदालत के दौरान पक्षकारों को स्मृति चिन्ह के रू में फलदार पौधे प्रदान किए, साथ ही न्यायाधीशगणों ने भी न्यायालय परिसर में पौधरोपण किया।

jay singh gurjar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned