जिपं अध्यक्ष ने पढ़वाई किताब, 8वीं का छात्र नहीं पढ़ सका हिंदी

जिपं अध्यक्ष ने पढ़वाई किताब, 8वीं का छात्र नहीं पढ़ सका हिंदी

jay singh gurjar | Updated: 11 Jul 2019, 08:35:45 PM (IST) Sheopur, Sheopur, Madhya Pradesh, India

जिपं अध्यक्ष कविता मीणा ने सोंई क्षेत्र के गांवों में किया स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण, स्कूल और आंगनबाडिय़ों में मिली खामियां, जनपद सीइओ जयदेव शर्मा भी रहे साथ में, बनाया निरीक्षण प्रतिवेदन

श्योपुर,
स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों की व्यवस्थाओं का आंकलन करने के लिए बुधवार को जिला पंचायत अध्यक्ष कविता मीणा ने सोईं क्षेत्र के कुछ गांवों में पहुंचकर स्कूल और आंनगनबाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया और तमाम खामिया मिली। जिस पर उन्होंने साथ में मौजूद जनपद पंचायत सीइओ जयदेव शर्मा व अन्य अमले को निरीक्षण प्रतिवेदन बनाकर कार्यवाही प्रस्तावित करने के निर्देश दिए।


अपने निरीक्षण में जिपं अध्यक्ष सुबह 11 बजे ग्राम रन्नौद के मिडिल स्कूल में पहुंची, तो यहां तीन कक्षाओं में कुल दर्ज 37 बच्चों में से महज 19 उपस्थित मिले, जबकि तीन शिक्षकों में से एक ही उपस्थित पाए गए। इस दौरान जिपं अध्यक्ष कविता मीणा ने शैक्षणिक गुणवत्ता जांचने बच्चों से पुस्तकें पढ़वाई तो कक्षा 8वीं का छात्र विशाल हिंदी की किताब भी नहीं पढ़ पाया। इस पर जब जिपं अध्यक्ष ने मौजूद प्रभारी हेडमास्टर जस्तराम मीणा से इस पर नाराजगी जताई, तो मीणा बोले मैडम मैं क्या करूं, हमारा एक शिक्षक लोकेंद्र भदौरिया तो दो साल से डाइट में अटैच है, जबकि एक शिक्षिका है वो भी आज छुट्टी पर है। इस पर जनपद सीइओ शर्मा ने शिक्षक मीणा को फटकार लगाते हुए कहा कि ऐसे बहाने मत बनाओ, बच्चों को कम से कम हिंदी तो पढऩा आना चाहिए। इसके साथ ही विद्यालय का भवन भी क्षतिग्रस्त पाया गया, जिसकी रिपेयरिंग कराने के भी निर्देश जिपं अध्यक्ष ने दिए।


इसके बाद जिपं अध्यक्ष व जनपद सीइओ ने स्कूल के पास ही संचालित गांव की आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया तो वहां एक भी बच्चा नहीं मिला। सहायिका मिली, तो उसने कहा कि बच्चे अभी घर चले गए। वहीं कार्यकर्ता कुंती बाई अनुपस्थित मिली, जिसके बारे में सहायिका ने बताया कि वे श्योपुर रहती हैं और सुबह 10 बजे तक आती हैं, लेकिन आज नहीं आई। निरीक्षण के दौरान वरिष्ठ भाजपा नेता मूलचंद रावत, जिपं सदस्य रामचरण बैरवा सहित जनपद श्योपुर का अमला भी मौजूद रहा।
प्रायमरी की पांच कक्षाओं में 8 बच्चे दर्ज, उपस्थित मिले 3
रन्नौद के बाद सुबह पौने 12 बजे के आसपास जिपं अध्यक्ष कविता मीणा ने ग्राम गोपालपुरा के प्राथमिक स्कूल का निरीक्षण किया। जहां एक शिक्षक श्याम शर्मा तो मौजूद मिले, लेकिन यहां की प्रभारी शिक्षिका राधा वैश्य अनुपस्थित मिली, जिसके बारे में बताया कि वे आती ही नहीं है। विशेष बात यह है कि विद्यालय की पांच कक्षाओं में महज 8 बच्चे ही दर्ज हैं, जिनमें से भी विद्यालय में महज 3 बच्चे ही उपस्थित मिले। विद्यालय के पीछे ही बनी आंगनबाड़ी पर ताला जड़ा मिला। इसको लेकर जिपं अध्यक्ष ने अधीनस्थों को निरीक्षण प्रतिवेदन में कार्यवाही प्रस्तावित करने के लिए कहा।


दो साल से हैंडपंप खराब, हाइवे पार पानी पीने जाते बच्चे
दोपहर साढ़े 12 बजे के आसपास जिपं अध्यक्ष कविता मीणा और जनपद सीइओ जयदेव शर्मा ने सोईंकला के मिडिल और प्रायमरी स्कूलों का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया गया कि दो साल से विद्यालय का हैंडपंप खराब पड़ा है, जिसके कारण बच्चे नेशनल हाइवे पार कर दूसरी ओर पानी पीने जाते हैं, बावजूद इसके विद्यालय प्रबंधन ने कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की। इस पर जब सवाल किया कि ऐसे में कोई हादसा हो जाए तो जिम्मेदार कौन होगा, तो मौजूद शिक्षक बगले झांकते नजर आए। शिक्षक बोले-हेड सर इस संबंध में पंचायत व अन्य जगह पत्र लिख चुके हैँ, लेकिन हैंडपंप नहीं सुधरा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned