104 पर कॉल करने के बाद नहीं आई एम्बुलेंस, 90 वर्षीय वृद्धा घर पर इलाज के लिए तड़पी

- लॉक डाउन में वाहन न मिलने पर 104 को किया था कॉल
- सुबह 8.30 बजे किया कॉल, शाम तक नहीं पहुंची एम्बुलेंस

By: Anoop Bhargava

Published: 28 Mar 2020, 11:35 AM IST

श्योपुर
कोरोना वायरस के चलते शहर में लॉक डाउन के बीच 90 वर्षीय वृद्धा की तबीयत खराब होने पर उनके बेटे ने 104 पर कॉल कर सहायता मांगी। सुबह से लेकर शाम तक बेटा एम्बुलेंस आने का इंतजार करना रहा, लेकिन एम्बुलेंस मदद के लिए नहीं पहुंची। वृद्ध मां को अस्पताल ले जाने बेटा इधर-उधर भटका लेकिन वाहन नहीं मिल सके। थक हार बेटा वृद्ध मां की घर पर ही सेवा करने में जुट गया। पिछले दो दिन से वृद्धा की हालत नाजुक है, लेकिन इलाज के लिए अस्पताल ले जाने साधन नहीं मिल रहा है।

किला रोड स्थित भैंसपाड़ा में किराए से रहने वाली 90 वर्षीय कंचन बाई की तबीयत बिगड़ गई। शुक्रवार की सुबह करीब 8.30 बजे उनके बेटे ने 104 पर कॉल कर सहायता मांगी। 104 पर जानकारी मुहैया करने के बाद एम्बुलेंस जल्द उपलब्ध कराने की बात कही गई, लेकिन देर शाम तक एम्बुलेंस बताए गए पते पर नहीं पहुंची। ऐसे में वृद्धा बिना इलाज घर पर ही तड़पती रही। उल्लेखनीय है कि मेडिकल सहायता के लिए सरकार ने लोगों को 104 सेवा उपलब्ध कराई है, लेकिन लॉक डाउन के बीच इस सेवा का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है।

Anoop Bhargava Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned